देश को सिर्फ राजनीति नहीं बल्कि राष्ट्र नीति की भी जरूरत- विक्रम सिंह

देश को सिर्फ राजनीति नहीं बल्कि राष्ट्र नीति की भी जरूरत- विक्रम सिंह
देश को सिर्फ राजनीति नहीं बल्कि राष्ट्र नीति की भी जरूरत- विक्रम सिंह

सहारनपुर । राष्ट्र हित को सर्वोपरि मानकर राजनीतिक गतिविधियां चलाने वाले राष्ट्र निर्माण पार्टी के अध्यक्ष एवं जाने माने आर्यसमाजी ठाकुर विक्रम सिंह ने कहा कि मौजूदा दौर में देश को सिर्फ राजनीति नहीं बल्कि राष्ट्र नीति की भी जरूरत है।

सिंह ने गुरुवार को यहां पत्रकारों से कहा कि देश के हिन्दू समाज ने 2014 के लोकसभा चुनाव में एकजुट होकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भारी बहुमत के साथ सत्ता सौंपी थी। उन्होंने नाराजगी जताते हुए कहा कि मोदी सरकार राष्ट्र हित और हिंदू हित में अभी तक कोई भी बड़ा काम नहीं कर पाई है। मोदी ने प्रधानमंत्री बनने के बाद देश एवं हिंदुओं के ज्वलंत मुद्दों से अपना ध्यान हटा लिया।

सिंह ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लिखे पत्र में मांग की है कि पूरे भारत में गौवंश पर पूर्ण प्रतिबंध लगे, कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाली धारा 370 समाप्त हो, परिवार नियोजन सभी के लिए अनिवार्य हो, मातृ भाषा हिंदी को राष्ट्र भाषा बनाया जाए और संस्कृत भाषा को प्रोत्साहन दिया जाए। मांसाहार और शराब के इस्तेमाल को अत्यंत सीमित किया जाए। इंटरमीडिएट तक सहशिक्षा खत्म की जाए और गुरूकुल पद्धति की शिक्षा को प्रोत्साहित किया जाए तथा केंद्र एवं विधानसभाओं के चुनाव एक साथ कराए जाएं।

उन्होंने अपने संगठन का विस्तार करते हुए पूर्व आईपीएस डा0 आनंद कुमार को राष्ट्रीय महासचिव और दुष्यंत राघव को उत्तर प्रदेश इकाई का सचिव नियुक्त किए जाने की भी जानकारी दी।