काउंटी क्रिकेट का अनुभव काम आया: चेतेश्वर पुजारा

County Cricket Experience Work: Cheteshwar Pujara
County Cricket Experience Work: Cheteshwar Pujara

लंदन । भारतीय बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा ने नॉटिंघम में इंग्लैंड के खिलाफ तीसरे टेस्ट मैच की दूसरी पारी में 72 रनों की अपनी शानदार पारी का श्रेय काउंटी क्रिकेट को दिया है।

पुजारा ने सोमवार को कप्तान विराट कोहली के साथ तीसरे विकेट के लिए 113 रनों की साझेदारी कर 72 रनों की पारी खेली और टीम इंडिया को मजबूत स्कोर की ओर ले गए।

इंग्लैंड के खिलाफ पांच टेस्ट मैचों की सीरीज शुरू होने से पहले पुजारा का टेस्ट क्रिकेट की पिछली छह पारियों में स्कोर क्रमश: 4, 0, 19, 50, 1 और 35 रहा था। खराब फार्म में चल रहे पुजारा को पहले एजबेस्टन टेस्ट के लिए अंतिम एकादश में शामिल नहीं किया गया था। काउंटी क्रिकेट में याॅर्कशायर टीम के लिए खेलते हुए पुजारा ने अपनी चार पारियों में 23, 17, 0 और 32 का स्कोर बनाया था।

लाॅर्ड्स टेस्ट की पहली पारी में दुर्भाग्यपूर्ण तरीके से एक रन पर रन आउट होने तथा दूसरी पारी में 17 रन पर एक इनस्विंग गेंद का शिकार होने और नॉटिंघम टेस्ट की पहली पारी में केवल 14 रन बनाने के बाद पुजारा ने वह पारी खेली जिसकी भारतीय टीम को सख्त जरुरत थी। नॉटिंघम टेस्ट के तीसरे दिन का खेल समाप्त होने पर पुजारा ने कहा, “मुझे लगता है कि मैं हमेशा आत्मविश्वास में रहा। मैं काउंटी क्रिकेट में चुनौतीपूर्ण पिचों पर खेल रहा था। मुझे हमेशा लगा कि मैं अच्छी बल्लेबाजी कर रहा हूं, विशेष रूप से अभ्यास के दौरान। मुझे भरोसा था कि मैं बड़ी पारी खेल सकता हूं।”

भारतीय बल्लेबाज ने कहा,“जिस प्रकार से मैंने इस पारी में बल्लेबाजी की, मुझे लगता है कि जैसे मैंने नेट पर अभ्यास किया। उसका मुझे लाभ मिला और मैं टीम के लिए 72 रनों का योगदान देकर खुश हूं।”

पुजारा ने कहा,“मुझे लगता है कि आपको बस अपनी तकनीक और अपने स्वभाव पर विश्वास करने की आवश्यकता है। काउंटी क्रिकेट खेलने से मुझे काफी मदद मिली। मैंने बहुत कुछ सीखा है। यद्यपि मैंने ज्यादा रन नहीं बनाए लेकिन मैंने पिछले कुछ वर्षों के दौरान जो समय वहां बिताया उसका मुझे फायदा मिला। इसके अलावा इस तरह की परिस्थितियों में आप कैसे खेलना चाहते हैं इसको लेकर भी आश्वस्त रहना जरूरी है।”