आप विधायक प्रकाश जारवाल को चार दिन और पुलिस हिरासत में भेजा

नई दिल्ली। दक्षिणी दिल्ली में एक डॉक्टर के खुदकुशी मामले में गिरफ्तार आम आदमी पार्टी के विधायक प्रकाश जारवाल और उसके सहयोगी कपिल नागर को चार दिनों की पुलिस हिरासत पूरा होने के बाद गुरुवार को अदालत में पेश किया गया जहां से दोनों को फिर से चार दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया गया।

दक्षिणी दिल्ली जिले के पुलिस उपायुक्त अतुल ठाकुर ने इसकी जानकारी दी। उन्होंने कहा कि डॉक्टर की हत्या से जुड़े मामलों की जांच के लिए अदालत ने दोनों की पुलिस हिरासत और चार दिन बढ़ा दी है।

डॉक्टर राजेन्द्र भाटी की खुदकुशी मामले में दोनों आरोपियों प्रकाश जारवाल तथा कपिल नगर से पूछताछ के बाद नौ मई गिरफ्तार किया गया था। दोनों को दस मई को अदालत के समक्ष पेश किया गया था जहां से चार दिन की पुलिस हिरासत मंजूर हुई थी। पुलिस हिरासत की अवधि आज समाप्त हो रही थी। इस मामले में नेब सराय थाने में दोनों के खिलाफ प्रतिमकी दर्ज की गई थी।

उल्लेखनीय है कि जारवाल को दिल्ली पुलिस पूछताछ के लिए दो बार बुला चुकी थी। हालांकि दोनों बार प्रकाश जारवाल दिल्ली पुलिस के सामने पेश नहीं हुए जिसके बाद विधायक प्रकाश जारवाल और उनके सहयोगी कपिल नागर के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी किया गया था।

गौरतलब है कि डॉक्टर राजेंद्र भाटी ने 18 अप्रैल को अपने घर में फांसी लगाकर आत्महत्या की थी। पुलिस को राजेंद्र भाटी का एक सुसाइड नोट मिला था जिसमें सुसाइड आम आदमी पार्टी के देवली विधायक प्रकाश जारवाल का नाम था। मृतक डॉक्टर ने सुसाइड नोट में जारवाल और उनके सहयोगी पर लगातार धमकी देने का आरोप लगाया था।