पटाखा फैक्ट्री विस्फोट, थानाध्यक्ष निलंबित, जांच कमेटी गठित

Cracker factory explosion SI suspended probe committee constituted
Cracker factory explosion SI suspended probe committee constituted

राजगीर. बिहार के नालंदा जिले में अवैध रूप से संचालित एक पटाखा फैक्ट्री में हुए विस्फोट के मामले में सोहसराय थानाध्यक्ष को जहां निलंबित कर दिया गया है, वहीं पूरे मामले की जांच के लिए तीन सदस्यीय जांच कमेटी का गठन कर दिया गया है।

जिलाधिकारी डॉ. त्यागराजन एस. एम ने आज यहां बताया कि घटना की जांच के लिए अपर समाहर्ता, अनुमंडल पदाधिकारी (बिहार शरीफ) और पुलिस उपाधीक्षक (बिहार शरीफ) की तीन सदस्यीय जांच कमेटी बनाई गई है। नगर आयुक्त को तीन दिनों के अंदर शहर में अवैध रूप से चल रहे सभी पटाखा दुकानों एवं पटाखा निर्माण करने वालों की जांच कर एक रिपोर्ट प्रस्तुत करने का निर्देश दिया गया है। उन्होंने जोर देकर कहा कि इस तरह की अवैध गतिविधियों में शामिल लोगों पर कड़ी कार्रवाई होगी।

वहीं, सोहसराय थानाध्यक्ष को निलंबित कर दिया गया है। वहीं अवैध रूप से पटाखा फैक्ट्री चला रहे मोहम्मद सरफराज पर प्राथमिकी दर्ज कराई जा रही है।

उल्लेखनीय है कि जिले के सोरसराय थाना क्षेत्र के खासगंज मुहल्ले के एक मकान में अवैध रूप से चल रही पटाखा फैक्ट्री में गुरूवार रात हुये विस्फोट में पांच लोगों की मौत हो गई तथा 18 अन्य घायल हो गये। इस घटना में मुन्ना पंडित, सरफराज की पुत्री सुमेरा (एक माह), तनिक फातिमा (तीन साल), पुत्र सरताज और उसकी बहन शइस्ता की मौके पर ही मौत हो गई। घायलों में चार की स्थिति गंभीर है और उन्हें बेहतर इलाज के पटना मेडिकल कॉलेज अस्पताल (पीएमसीएच) भर्ती कराय गया है। वहीं, 14 अन्य घायलों का इलाज बिहारशरीफ सदर अस्पताल में चल रहा है।