सोशल मीडिया पर चर्चा के माध्यम से सकारात्मक विमर्श बनें : मनोज कुमार

जयपुर। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के उत्तर पश्चिम (राजस्थान) के सह क्षेत्र प्रचार प्रमुख मनोज कुमार ने कहा कि सोशल मीडिया पर चर्चा के माध्यम से सकारात्मक विमर्श बनें। उन्होंने कहा कि प्रचार कम भी नहीं हो और प्रचार की अति भी नहीं जितना आवश्यक अनिवार्य है, उतना प्रचार संतुलन के साथ किया जाए।

मनोज कुमार बुधवार को आदर्श विद्या मंदिर राजापार्क में विश्व हिन्दू परिषद शिक्षा वर्ग में विभिन्न प्रकार के सूचना प्रचार-प्रसार तंत्र (मीडिया) व उनका महत्व तथा उपयोगिता विषय पर बोल रहे थे।

उन्होंने कहा कि पारंपरिक मीडिया व न्यू मीडिया का समन्वय कर हम अपनी बात को अधिक प्रभावी रख सकते हैं। उन्होंने कहा कि प्रिन्ट, सोशल, इलेक्ट्रॉनिक व डिजिटल मीडिया के माध्यम से आप अपने संगठन के कार्यों, विचारों को बहुत ऊपर तक लेकर जा सकते हैं। उन्होंने कहा लाइक व शेयर के साथ साथ हम कमेंट करें, जिससे हमारा लेखन का अभ्यास होगा एवं हमारे अधिकृत मंचों को प्रमोशन भी मिलेगा।

उल्लेखनीय है कि विहिप का प्रशिक्षण वर्ग 2 जून से शुरू हुआ है और 12 जून तक चलेगा। वर्ग में आज विहिप के केन्द्रीय महामंत्री बजरंग बागड़ा ने विश्व हिन्दू परिषद के कार्य विभाग व आयाम तथा उसके अनिवार्य कार्यों- उत्सवों के विषय में विस्तार से बताया।

इस अवसर पर भारत संस्कृत परिषद द्वारा परिष्कृत पञ्चाङ्ग का विमोचन किया। इस पञ्चाङ्ग के मुख्य संपादक कुलदीप शर्मा ने बताया कि इस पञ्चाङ्ग में तिथियां भारतीय काल गणना के अनुसार तो है ही साथ ही इसमे परिवार प्रबोधन अर्थात परिवार के सदस्यों के लिए करणीय सुझाव दिए गए हैं व संगठन का परिचय भी है।