क्रोएशिया की राष्ट्रपति ने 52 लोगों को दी ‘जादू की झप्पी’

Croatian President’s Reaction After The FIFA World Cup Final Has won over the internet

मॉस्को। रूस में रविवार को फीफा विश्वकप फ्रांस को चैंपियन बनाने के साथ संपन्न हो गया जहां फाइनल मुकाबले में विपक्षी टीम क्रोएशिया को भले ही हार झेलनी पड़ी हो लेकिन उनकी राष्ट्रपति कोलिंडा ग्राबर कित्रोविच पहले अपने डांस और फिर प्रेजेंटेशन में जादू की झप्पी देकर जरूर सभी का दिल जीत ले गईं।

रूस की मेजबानी में हुए विश्वकप में क्रोएशिया और रूस के बीच नॉकआउट मैच के दौरान अपनी टीम जर्सी में बैठीं कोलिंडा ने टीम की जीत के साथ ही जब राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के सामने डांस करना शुरू कर दिया तो पूरी दुनिया को उनका अंदाज़ बेहद पसंद आया।

लेकिन रविवार को मॉस्को में हुए फाइनल में उनकी टीम क्रोएशिया की 2-4 की हार के बावजूद कोलिंडा चेहरे पर बड़ी सी मुस्कुराहट लिए खुशी में झूमती दिखीं तो उनकी खेल भावना ने दुनियाभर में खेल प्रशसंकों का दिल जीत लिया।

खिताबी मुकाबले के बाद औपचारिकता के अवार्ड समारोह के लिए मंच सजाया गया तो फ्रांस के राष्ट्रपति एमानुएल मैक्रों का हाथ पकड़कर क्रोएशिया की राष्ट्रपति कोलिंडा उन्हें प्रजेंटेशन के लिए मैदान पर पहुंची। उनके साथ मेजबान रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन भी मौजूद थे। लेकिन अपनी टीम की हार के बावजूद कोलिंडा खुश दिखाई दी।

प्रेजेंटेशन शुरू होते ही झमाझम बारिश भी शुरू हो गई और पुतिन जहां छाते में आराम से खड़े रहे वहीं मैक्रों और कोलिंडा बारिश में भीगते रहे। अवार्ड के लिए पहुंच रहे 23-23 सदस्यीय दोनों टीमों के हर खिलाड़ी से फीफा अध्यक्ष जियानी इन्फेन्टिनो ने और पुतिन ने हाथ मिलाया तो साथ खड़े मैक्रों और उनके साथ में खड़ीं कोलिंडा ने खिलाड़ियों को गले लगाया।

हालांकि क्रोएशियाई राष्ट्रपति का अंदाज़ सबसे जुदा था जिन्होंने सबसे युवा गोल स्कोरर फ्रांस के काइलियन एमबापे से शुरू हुई खिलाड़ियों की पंक्ति से जब गले मिलना शुरू हुआ तो यह सिलसिला अवार्ड समारोह समाप्त होने के बाद ही समाप्त हुआ।

50 वर्षीय कोलिंडा ने अपनी टीम क्रोएशिया के प्रत्येक खिलाड़ी और कोच ज्लाट्को डालिच को प्यार से गले लगाया और अपनी टीम के खिलाड़ियों को सांत्वना दी जबकि फ्रांस के प्रत्येक खिलाड़ी, उसके कोच डिडियर डीशैंप्स को भी अपनी टीम खिलाड़ियों की तरह ही गले लगाया।

इतना ही नहीं राष्ट्रपति कोलिंडा ने फाइनल में रेफरी की भूमिका निभाने वाले नेस्टर पिताना और सह रेफरी हर्नान मेदाना, जुआन पाब्लो बेलाटी, इटली के मैसीमिलानो इराटी को भी पूरी गर्मजोशी के साथ गले लगाया।

उन्होंने मैदान से जाते जाते विश्व ट्रॉफी को चूमा और मैक्रों को फिर से गले लगाया और जीत की बधाई दी। अपने इस व्यवहार से कोलिंडा दुनियाभर में सोशल नेटवर्किंग साइट पर भी छा गई हैं।