अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतें एक फीसदी लुढ़की

सिंगापुर | सीरिया पर किये गये अमेरिका,फ्रांस और ब्रिटेन के संयुक्त हमले तथा अमेरिका में ड्रीलिंग का काम बढ़ने से अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतें आज एक फीसदी लुढ़क गयीं।

शनिवार को सीरिया पर अमेरिका,फ्रांस और ब्रिटेन ने मिलकर 105 मिसाइलें दागीं। इन देशों का कहना है कि उनका निशाना सीरिया में रासायनिक हथियार के तीन ठिकाने थे और उन्होंने ये हमला गत सात अप्रैल को दमिश्क के पास के इलाके दुमा में जहरीले गैस के संदिग्ध हमले के विरोध में किया है। अंतरराष्ट्रीय बाजार पर इस हमले के अलावा अमेरिका में नये उत्पादन के लिए ड्रीलिंग का काम बढ़ने से भी दबाव है।
लंदन का ब्रेंट क्रूड वायदा 73 सेंट यानी एक फीसदी लुढ़ककर 71.85 डॉलर प्रति बैरल पर आ गया। अमेरिकी बाजार में कच्चे तेल के दाम 0.9 फीसदी यानी 57 सेंट फिसलकर 66.82 डॉलर प्रति बैरल बोले गये।

काराेबारियों के मुतारबिक अमेरिका ऊर्जा कंपनियों ने 13 अप्रैल को समाप्त सप्ताह में नये उत्पादन के लिए सात तेल कुओं में ड्रीलिंग शुरू कर दी है। इसे मिलाकर कुल 815 कुओं में ड्रीलिंग हो रही है , जो मार्च 2015 के बाद का सबसे उच्चतम आंकड़ा है।