मोदी ने बंगाल के लिए की एक हजार करोड़ रुपए के पैकेज की घोषणा

कोलकाता। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भीषण चक्रवाती तूफान ‘अम्फान’ से बुरी तरह प्रभावित पश्चिम बंगाल के लिए तत्काल एक हजार करोड़ रुपए की मदद की घोषणा की है। मोदी ने शुक्रवार को तूफान प्रभावित इलाकों का हवाई सर्वेक्षण करने के बाद यह घोषणा की।

मोदी ने राज्यपाल जगदीप धनखड़, मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और राज्य सरकार के अन्य अधिकारियों के साथ बशीरहाट में एक समीक्षा बैठक को संबोधित करते हुए कहा कि राज्य और केन्द्र सरकार चक्रवाती तूफान अम्फान से प्रभावित लोगों के साथ एकजुट होकर खड़ी हुई है।

मोदी ने कहा कि पूरा देश आपके साथ खड़ा हुआ है। केन्द्र सरकार हर समय आपके साथ है। मैं आप सभी लोगों से मिलने आया था लेकिन कोविड-19 के कारण ऐसा संभव नहीं है। नुकसान कम से कम हो यह सुनिश्चित करने के लिए राज्य और केन्द्र सरकार ने मिलकर काम किया है। हम करीब 70 लोगों की जिंदगी नहीं बचा सके जिसका हमें बहुत ही दुख है। दुख की इस घड़ी में हम मृतकों के परिजनों के साथ खड़े हुए हैं। केन्द्र की ओर से पश्चिम बंगाल को तत्काल एक हजार करोड़ रुपए की सहायता राशि मुहैया कराई जाएगी।

प्रधानमंत्री ने कहा कि पश्चिम बंगाल में तूफान के कारण मरने वाले लोगों के परिजनों को केन्द्र सरकार की ओर से दो-दो लाख रुपए और गंभीर रूप से घायलों को 50-50 हजार रुपए की सहायता राशि दी जाएगी।

मोदी ने कहा कि हम एक ओर कोविड-19 जैसी महामारी का सामना कर रहे हैं तो दूसरी ओर देश के कुछ क्षेत्रों में चक्रवाती तूफान के कारण पैदा हुई स्थिति है। इस महामारी से निपटने के लिए हमें शारीरिक दूरी के नियमों का पालन करना होता है जबकि तूफान प्रभावित क्षेत्रों से लोगों को सुरक्षित स्थानों की ओर ले जाना भी एक चुनौती है।

प्रधानमंत्री ने गत वर्ष मई महीने में ओडिशा में आए तूफान का उल्लेख करते हुए कहा कि मई महीने में उस समय देश चुनावों में व्यस्त था और उसी दौरान ओडिशा में एक तूफान का भी सामना करना पड़ा। अब एक वर्ष बाद तूफान के कारण हमारे तटवर्ती इलाके बुरी तरह से प्रभावित हुए हैं। पश्चिम बंगाल के लोग इसके कारण बुरी तरह से प्रभावित हुए हैं।

मोदी ने कहा कि पुनर्वास और पुनर्निर्माण कार्यों से संबंधित सभी पहलुओं पर विशेष ध्यान दिया जाएगा। हम पश्चिम बंगाल को आगे बढ़ता हुआ देखना चाहते हैं। इस मुश्किल समय में केन्द्र सरकार पश्चिम बंगाल और उसकी जनता के साथ हमेशा खड़ी हुई है। चुनौतीपूर्ण परिस्थितियों के बावजूद बंगाल लड़ाई लड़ रहा है। हम सभी बंगाल के साथ हैं।

प्रधानमंत्री ने कहा कि मैं पश्चिम बंगाल के अपने भाइयों और बहनों को विश्वास दिलाता हूं कि इस कठिन समय में पूरा देश आपके साथ खड़ा हुआ है। भीषण चक्रवाती तूफान अम्फान के कारण हुए नुकसान और प्रभावित क्षेत्रों की मौजूदा स्थिति का विस्तृत जायजा लेने के लिए केन्द्र सरकार की ओर से एक टीम भेजी जाएगी। तूफान के बाद पुनर्वास और पुनर्निर्माण कार्यों से संबंधित सभी पहलुओं पर विशेष ध्यान दिया जाएगा।

मोदी ने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के साथ तूफान प्रभावित क्षेत्रों का हवाई सर्वेक्षण किया। इसके अलावा प्रधानमंत्री ने कई समीक्षा बैठकों में हिस्सा लिया जहां राहत एवं पुनर्वास कार्यक्रमों को लेकर चर्चा की गई। दरअसल, बनर्जी ने प्रधानमंत्री से राज्य का दौरा करने और नुकसान का जायजा लेने की अपील की थी।

इससे पहले मोदी भीषण चक्रवाती तूफान ‘अम्फान’ से बुरी तरह प्रभावित पश्चिम बंगाल के इलाकों का हवाई सर्वेक्षण करने के लिए शुक्रवार सुबह यहां नेताजी सुभाष चंद्र बोस अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा पहुंचे।

राज्यपाल जगदीप धनखड़ और मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने यहां हवाई अड्डे पर माेदी का स्वागत किया। पश्चिम बंगाल के विभिन्न क्षेत्रों में बुधवार रात को भीषण चक्रवाती तूफान ‘अम्फान’ ने भारी तबाही मचाई थी। तूफान के कारण राज्य में कम से कम 72 लोगों की मौत हो चुकी है। प्रधानमंत्री के साथ केन्द्रीय मंत्री धर्मेन्द्र प्रधान, राज्य मंत्री बाबुल सुप्रियो, प्रताप चंद्र सारंगी और देबाश्री चौधरी भी मौजूद थीं।