डाटा लीक मामले की निष्पक्ष एजेंसी से कराई जाए जांच : सचिन पायलट

Data leak case to be investigated by fair agency : Sachin Pilot
Data leak case to be investigated by fair agency : Sachin Pilot

बीकानेर। राजस्थान में कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष सचिन पायलट ने डाटा लीक मामले को देश की सुरक्षा के लिए घातक बताते हुए इसकी जांच निष्पक्ष एजेंसी से कराने की मांग की है।

पायलट ने सोमवार को पत्रकारों से कहा कि अगर डाटा ऐसे लोगों को हाथ लग गया जो इसका दुरूपयोग करें तो देश के सामने संकट खड़ा हो जाएगा, जिसकी कल्पना नहीं की जा सकती।

उन्होंने कहा कि यह किसी से भी जुड़ा मामला हो, अगर कोई गलती हुई हो तो उसे स्वीकार करके इसे ठीक किया जाना चाहिए। अगर इस तरह के डाटा लीक हो रहे हैं तो यह देश की सुरक्षा के साथ खिलवाड़ है। इसकी जांच कराई जानी चाहिए।

उन्होंने कहा कि वर्तमान में देशों की ताकत मिसाइलें नहीं बल्कि डाटा है। जिस देश के पास सूचना है वहीं ताकतवर है। उन्होंने कहा कि आधार को हर चीज से जोड़ देंगे तो यह हैकिंग का रास्ता देना होगा। हैकरों को एक ही बार में सारी जानकारी हासिल हो जायेगी। अभी जो तथ्य सामने आ रहे हैं वह चिंताजनक हैं।

उन्होंने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के किसानों को लागत का 50 प्रतिशत मुनाफा दिए जाने के बयान पर कहा कि यह लागत कौन तय करेगा, क्योंकि राज्यों में अलग फसलों पर लागत अलग होती है।

केंद्र सरकार की एक समिति ही लागत तय करती है, उसी को मानना चाहिए या जो भाजपा पदाधिकारी तय करे उसे माना जाए। उन्होंने कहा कि खाद, बिजली, तेल सब जोड़कर ही लागत तय होती है। अभी जो वादा किया गया है वह दूर दूर तक पूरा होने की संभावना नहीं है।

पायलट ने कहा कि राजस्थान में करीब सभी उपचुनावों में कांग्रेस को सफलता मिली है, इससे स्पष्ट है कि कांग्रेस को सभी वर्ग के लोगों का समर्थन मिल रहा है। लोग कांग्रेस की कार्यशैली को पसंद कर रहे हैं। भाजपा की गाड़ी एक बार पटरी से उतर चुकी है।

उन्होंने मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे पर कटाक्ष करते हुए कहा कि उन्हें यात्रा के जरिए जनता में नया भ्रम उत्पन्न करने की बजाय सत्य की यात्रा निकालनी चाहिए कि उन्होंने चार साल में क्या किया। कितने किसानों ने आत्महत्या की। कितनी महिलाओं और मजदूरों का शोषण किया। नौजवान सवाल करते हैं तो पुलिस डंडे बरसाती है।

उन्होंने कहा कि भाजपा के खुद के कार्यकर्ता निराश हो चुके हैं। अब राज्य सरकार के पाप का घड़ा भर चुका है। लिहाजा इस अहंकारी और किसान विरोधी सरकार का जाना तय है।

पायलट ने कहा कि राजस्थान की जनता मन बना चुकी है। अब भाजपा कितने भी संगठन में फेरबदल करे, नए चेहरे लाए, पुरानों को हटाए, इससे कोई फर्क नहीं पड़ेगा। कांग्रेस अगले चुनाव में कोई झूठे वादे नहीं करेंगी। वह झूठ के पुलिंदे नहीं बनाना चाहती।

अगले चुनावों में कांग्रेस की भूमिका को लेकर राहुल गांधी का स्पष्ट संदेश है कि जनता के बीच जाना है। हर ढाणी, तहसील में कांग्रेस कार्यकर्ता दिखेंगे। सभी कांग्रेसजन एक जुट होकर लड़ेंगे। पहला और अंतिम उद्देश्य कांग्रेस को सत्ता में लाना है।

उन्होंने दावा किया कि राजस्थान, मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की सरकारी बनेगी। राजस्थान में तो अभी भाजपा की जितनी सीटें हैं, उससे अधिक सीटें कांग्रेस जीतेगी।