डेविड वार्नर ने भी स्वीकारा प्रतिबंध का फैसला, नही करेंगे अपील

David Warner accepts ball tampering ban sanctioned by Cricket Australia
David Warner accepts ball tampering ban sanctioned by Cricket Australia

मेलबोर्न। आस्ट्रेलियाई क्रिकेट टीम के खिलाड़ी डेविड वार्नर ने भी पूर्व कप्तान स्टीवन स्मिथ और बल्लेबाज कैमरन बेनक्राफ्ट की तरह ही बॉल टेम्परिंग प्रकरण में क्रिकेट आस्ट्रेलिया के प्रतिबंध के निर्णय को स्वीकार कर लिया है और वह अब इसके खिलाफ अपील नहीं करेंगे।

दक्षिण अफ्रीका में टेस्ट सीरीज़ के तीसरे केपटाउन मैच में तीनों खिलाड़ियों को गेंद के साथ छेड़छाड़ करने का दोषी पाया गया था। इस मामले में बॉल टेम्परिंग की योजना बनाने के लिए टीम के उपकप्तान वार्नर को मुख्य साजिशकर्ता माना गया था और सीए ने अपनी जांच के बाद स्मिथ और वार्नर पर एक एक वर्ष का बैन लगाया गया था। वार्नर को साथ ही आजीवन आस्ट्रेलियाई टीम की कप्तानी से भी प्रतिबंधित कर दिया गया है। बेनक्राफ्ट पर नौ माह का बैन लगाया है।

आस्ट्रेलिया के तीनों दोषी बल्लेबाज़ों के पास गुरूवार तक का समय इस फैसले के खिलाफ अपील करने के लिये था। स्मिथ और बेनक्राफ्ट ने एक दिन पहले ही सीए के फैसले के खिलाफ नहीं जाने की घोषणा की थी जबकि वार्नर ने गुरूवार को बाकी खिलाड़ियों की तरह स्वीकारा की वह भी इस बैन को स्वीकार करते हैं।

वार्नर ने ट्विटर पर कहा कि मैंने आज सीए को बता दिया है कि मैं उनके प्रतिबंध को स्वीकार करता हूं। मैं अपने अपराध के लिए शर्मिंदा हूं और एक बेहतर इंसान, अच्छा टीम साथी और आदर्श बनने के लिये सबकुछ करने के लिये तैयार हूं। स्मिथ और वार्नर को सीए के बैन के बाद आईपीएल के सात अप्रेल से शुरू होने वाले 11वें संस्करण से भी बाहर कर दिया गया है।

सीए ने भी गुरूवार को पुष्टि की कि तीनों दोषी खिलाड़ियों ने प्रतिबंध स्वीकार कर लिए हैं इसलिये उनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की जाएगी। सीए के मुख्य कार्यकारी जेम्स सदरलैंड ने कहा“ पेशेवर क्रिकेटरों के लिए यह सख्त सजा है। उनपर हल्की कार्रवाई नहीं की गई है। हमें यकीन है कि ये खिलाड़ी क्रिकेट में वापसी करेंगे और अपने करियर फिर स्थापित करेंगे।