यूपी में नई सरकार के गठन की प्रक्रिया शुरू, योगी ने राज्यपाल को सौंपा इस्तीफा

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव के परिणाम घोषित होने के बाद शुक्रवार को नई सरकार के गठन की प्रक्रिया शुरु हो गई है। इसकी औपचारिक शुरुआत मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में मौजूदा सरकार के मंत्रिमंडल की अंतिम बैठक के साथ हुई। बैठक के बाद योगी ने शाम को राजभवन जाकर राज्यपाल आनंदी बेन से मुलाकात कर सरकार का कार्यकाल पूरा होने की जानकारी देते हुए उन्हें अपना इस्तीफा सौंप दिया।

इससे पहले मंत्रिमंडल की बैठक में विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी को अपार जन समर्थन एवं आशीर्वाद प्रदान करने के लिए जनता जनार्दन का अभिनन्दन करते हुए आभार प्रकट किया गया। मुख्यमंत्री कार्यालय की ओर से जारी बयान के अनुसार बैठक में चुनाव के दौरान नेतृत्व एवं मार्गदर्शन प्रदान करने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के प्रति धन्यवाद ज्ञापित भी किया गया।

गौरतलब है कि योगी की अगुवाई में भाजपा ने विधानसभा चुनाव में शानदार प्रदर्शन करते हुए 255 सीटों पर विजय प्राप्त कर एक बार फिर सत्ता में वापसी काे सुनिश्चित कर लिया है। गुरुवार को हुयी मतगणना में मुख्य विपक्षी दल समाजवादी पार्टी को 111 सीट पर ही संतोष करना पड़ा।

मंत्रिमंडल ने विधानसभा चुनाव सकुशल सम्पन्न कराने के लिए निर्वाचन आयोग एवं इससे जुड़े सभी अधिकारियों एवं कर्मचारियों तथा सुरक्षाकर्मियों के प्रति भी आभार व्यक्त किया गया। बैठक मेें पारित प्रस्ताव में कहा गया कि प्रदेश की जनता ने न केवल भाजपा की नीतियों में विश्वास व्यक्त करते हुए उसे प्रचंड बहुमत देकर प्रदेश में सरकार के गठन का मार्ग प्रशस्त किया है, अपितु अन्य दलों को यह संदेश भी दिया है कि अब प्रदेश में विकास एवं सुशासन के अलावा खोखले नारों, जातिवाद एवं परिवारवाद के लिए कोई स्थान नहीं है।

प्रस्ताव के अनुसार सुरक्षा, सुशासन, विकास और गरीबों के सशक्तीकरण के संकल्प के साथ प्रदेश में भाजपा की सरकार ने 19 मार्च, 2017 को कार्यभार ग्रहण किया था। सरकार ने प्रधानमंत्री मोदी के ‘सबका साथ, सबका विकास’ के मूल मंत्र को अंगीकृत कर विगत 5 वर्षों में प्रदेश सरकार ने प्रदेश में सुरक्षा का बेहतर वातावरण उपलब्ध कराते हुए बिजली, पेयजल, स्वच्छता, आवास, शिक्षा और स्वास्थ्य तथा राशन जैसी मूलभूत सुविधाओं, विभिन्न विकास एवं कल्याणकारी योजनाओं का लाभ बिना भेदभाव के सभी पात्र व्यक्तियों तक पहुंचाने का भरपूर प्रयास किया। कृषि, अवस्थापना विकास, उद्योग, रोजगार सृजन तथा समाज के सभी कमजोर वर्गों के कल्याण के लिए राज्य सरकार द्वारा किए गए प्रयासों से उत्तर प्रदेश में सकारात्मक बदलाव आया है।