DBS ने भारत का GDP अनुमान घटाकर पांच प्रतिशत किया

DBS reduces India's GDP estimate to five percent
DBS reduces India’s GDP estimate to five percent

सिंगापुर। क्रिसिल, भारतीय रिजर्व बैंक और एशियन विकास बैंक (एडीबी) के बाद सिंगापुर के डीबीएस बैकिंग समूह ने शुक्रवार को भारत के सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) अनुमान को 5.5 प्रतिशत से घटाकर पांच प्रतिशत कर दिया।

डीबीएस बैकिंग समूह ने जीडीपी अनुमान घटाते हुए कहा है कि वित्तीय क्षेत्र पर दबाव की वजह से इस वर्ष भारतीय अर्थव्यवस्था तेजी से नीचे आयेगी। इससे पहले क्रिसिल, गोल्डमैन सैसे, एशियन विकास बैंक और भारतीय रिजर्व बैंक ने भी जीडीपी के अनुमान में बड़ी कमी की थी।

एडीबी ने बुधवार को चालू वित्त वर्ष के लिए भारत के चालू वित्त वर्ष के लिए जीडीपी का अनुमान घटाकर 5.1 प्रतिशत कर दिया था।

रिजर्व बैंक भी चालू वित्त वर्ष की पांचवीं द्वैमासिक मौद्रिक समीक्षा में जीडीपी का अनुमान 6.1 प्रतिशत से घटाकर पांच प्रतिशत रहने का अनुमान जता चुका है। इससे पहले ब्रोकरेज फर्म गोल्डमैन सैसे और क्रिसिल दोनों ही भारत की जीडीपी रफ्तार को पहले के छह प्रतिशत की तुलना में घटाकर 5.3 प्रतिशत रहने का अनुमान व्यक्त कर चुके हैं।

गौरतलब है कि हाल ही में चालू वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही के लिए जारी जीडीपी आंकड़ों में यह 26 तिमाहियों के निचले स्तर 4.5 प्रतिशत पर आ गई थी। अक्टूबर में प्रमुख उद्योगों की विकास दर घटकर 5.2 प्रतिशत रही। चालू वित्त वर्ष की पहली छमाही में जीडीपी पिछले साल के साढ़े सात प्रतिशत की तुलना में मात्र 4.8 प्रतिशत की रफ्तार ही हासिल कर पाई।