महिला ने बच्चे को बेरहमी से पीटा : महिला आयोग का पुलिस को नोटिस

नई दिल्ली। दिल्ली महिला आयोग ने बच्चों को बेरहमी से पीटती महिला की एक सीसीटीवी फुटेज का संज्ञान लेते हुए पुलिस को महिला के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करने का नोटिस जारी किया है।

महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने कहा कि मैं उस सीसीटीवी फुटेज में हो रही क्रूरता को देखकर बहुत निराश हूं जिस क्रूरता से महिला अपने ही छोटे बच्चों को पीट रही है। उन बच्चों पर क्या बीत रही होगी।

महिला का ऐसा निर्दई व्यवहार किसी भी हाल और किसी भी लिहाज से सही नहीं है। यह बच्चों के साथ हो रही क्रूरता को दर्शाता है। मुझे उम्मीद है कि दिल्ली पुलिस मामले कड़ी कार्रवाई करेगी एवं बच्चों की सुरक्षा तथा भलाई जल्द से जल्द सख्त रूप से सुनिश्चित करेगी।

सीसीटीवी फुटेज वीडियो महिला के पति द्वारा आयोग को दिया गया था। इस वीडियो में उसकी पत्नी अपने आठ साल और दो साल के मासूम बच्चों को बेरहमी से मार रही है। वीडियो में ये भी नजर आ रहा है कि उस महिला की 57 वर्षीय सास बच्चों को पीटने से बचाने की कोशिश कर रही है।

उसके पति ने आयोग को एक वीडियो और भी दी है जिसमें उसकी पत्नी उसकी मां को गाली देते हुए नजर आ रही है। उसने यह भी आरोप लगाया है कि उसकी पत्नी ने एक नहीं बल्कि कई मौकों पर उसकी मां को जान से मारने की धमकी दी है।

आयोग की टीम ने महिला के पीड़ित छोटे बच्चों से भी बातचीत की और बच्चों ने इस बात की पुष्टि की उनकी मां उन्हें ऐसे ही क्रूरता से पीटा करती है। छोटे बच्चों के साथ किए जा रहे हिंसक व्यवहार से आयोग स्तब्ध था और उनकी सुरक्षा की रक्षा के लिए आयोग ने तत्काल ही मामले का संज्ञान लेते हुए नोटिस जारी किया।

आयोग ने दिल्ली पुलिस को इस मामले में तुरंत प्राथमिकी दर्ज करने का नोटिस जारी किया है और आरोपी महिला की गिरफ्तारी की भी मांग की है। आयोग ने बच्चों को बाल कल्याण समिति के समक्ष पेश करने और आठ नवम्बर तक दिल्ली पुलिस से बच्चों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के संदर्भ में बाड़ा हिंदू राव थाने के एसएचओ से एक्शन टेकन रिपोर्ट भी मांगी है।