4 फरवरी से लखनऊ में शुरू होगा DefExpo इंडिया 2020

 Defexpo India 2020 will start in Lucknow from 4 February
Defexpo India 2020 will start in Lucknow from 4 February

लखनऊ उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में पहली बार रक्षा प्रदर्शनी डेफएक्सपो इंडिया -2020 आयोजित किया जायेगा।

रक्षा प्रदर्शनी डेफएक्सपो इंडिया -2020 का 11वां द्विवार्षिक संस्करण राजधानी के इंदिरा प्रतिष्ठान में चार से आठ फरवरी तक आयोजित किया जायेगा।

आधिकारिक सूत्रों ने शनिवार को यहां बताया कि राजधानी के इंदिया गांधी प्रतिष्ठान में आगामी चार फरवरी से शुरू होने वाले कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के अलावा रक्षा मंत्री और लखनऊ के सांसद राजनाथ सिंह, विदेश मंत्री एस जयशंकर, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मौजूद रहेंगे।

इस कार्यक्रम के नोडल अधिकारी और लखनऊ के जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने यहां बताया कि डेफएक्सपो इंडिया -2020 का आयोजन इंदिरा गाँधी प्रतिष्ठान में किया जायेगा। इस कार्यक्रम के दूसरे दिन केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह दूसरे दिन लगभग 1,500 गणमान्य लोगों के लिए रात्रिभोज की मेजबानी करेंगे। इस दौरान गोमती रिवर फ्रंट पर सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा।

शर्मा ने बताया कि मुख्य एक्सपो लखनऊ-रायबरेली राजमार्ग पर वृंदावन योगजना के सेक्टर 15 में आयोजित किया जाएगा। इस कार्यक्रम में देश विदेश से आये मेहमानों को पांच सितारा सुविधा मिलेंगी। इसके अलावा रक्षा निर्माण कंपनियों के प्रतिनिधियों को भी वहां सभी सुविधाएं प्रदान की जाएंगी।

रक्षा, विदेश मंत्रालय और उत्तर प्रदेश के अधिकारियों की उच्च स्तरीय बैठक हाल ही में लखनऊ में आयोजित की गई थी जहाँ कार्यक्रम स्थल के साथ-साथ कार्यक्रमों को अंतिम रूप दिया गया था। बैठक में निर्णय लिया गया था लखनऊ को खूबसूरती से सजाया जाएगा। स्वच्छता अधिकारियों के लिए मुख्य फोकस होगा। लखनऊ और आस-पास के क्षेत्रों में पर्यटन स्थलों का विस्तार किया जाएगा। सड़कों की मरम्मत की जाएगी।

उन्होंने बताया कि लखनऊ हवाई अड्डे को बड़े पैमाने पर चार्टर्ड उड़ानों के आवास की व्यवस्था करने के लिए कहा गया है। प्रतिनिधियों के काम के लिए प्रमुख होटलों के सभी कमरे बुक किए गए हैं।

शर्मा ने बताया कि यह एक्सपो भारतीय रक्षा उद्योग को अपनी क्षमताओं का प्रदर्शन करने और निर्यात क्षमता को बढ़ावा देने के लिए एक अवसर प्रदान करेगा। डेफएक्सपो इंडिया -2020 का मुख्य विषय “ द इंडिया, द इमर्जिंग डिफेंस मैन्युफैक्चरिंग हब ” होगा और फोकस ‘डिजिटल ट्रांसफॉर्मेशन ऑफ डिफेंस’ पर होगा।

उन्होंने बताया कि यह प्रदर्शनी रक्षा क्षेत्र में निवेश के लिए लोगों को आकर्षित करेंगी। रक्षा उद्योग में गठबंधनों और संयुक्त उद्यमों के लिए एक मंच के रूप में कार्य करेगी। हाल ही में राज्य के उद्योग विकास मंत्री सतीश महाना के नेतृत्व में प्रदेश के एक प्रतिनिधिमंडल ने लंदन में रक्षा, सुरक्षा और इक्विपमेंट एक्सपो 2019 का दौरा किया जहां उन्होंने रक्षा निर्माण कंपनियों को लखनऊ आने और आगामी रक्षा विनिर्माण गलियारे में उत्तर प्रदेश में निवेश करने के लिए आमंत्रित किया।

उत्तर प्रदेश में रक्षा औद्योगिक का एक मजबूत बुनियादी ढांचा तैयार है। लखनऊ, कानपुर, कोरवा (अमेठी) और नैनी (प्रयागराज) में हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड की चार इकाइयाँ, नौ आयुध निर्माणी इकाइयाँ, जिनमें कानपुर, कोरवा, शाहजहाँपुर, फिरोजाबाद शामिल हैं। गाजियाबाद में भारत इलेक्ट्रॉनिक्स लिमिटेड की एक इकाई है।

भारत के दो रक्षा औद्योगिक गलियारों (डीआईसी) में से एक की योजना उत्तर प्रदेश में भी है। कॉरिडोर डिफेंस माइक्रो स्मॉल एंड मीडियम इंटरप्राइजेज (एमएसएएमइ) को प्रोत्साहित करेगा, जिसमें भारतीय रक्षा उद्योग भी शामिल है और रक्षा सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों को बढ़ावा देगा।