अयोध्या में राम मंदिर लेकर योगी से मिले साधु-संतों का एक प्रतिनिधि मण्डल

अयोध्या में राम मंदिर लेकर योगी से मिले साधु-संतों का एक प्रतिनिधि मण्डल
अयोध्या में राम मंदिर लेकर योगी से मिले साधु-संतों का एक प्रतिनिधि मण्डल

लखनऊ | उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से आज यहां अयोध्या में राम मंदिर बनाने में हो रही देरी एवं अन्य मामलों को लेकर दिगम्बर अखाड़ा महंत सुरेश दास के नेतृत्व में साधु-संतों का एक प्रतिनिधि मण्डल ने मुलाकात की।

मुख्यमंत्री निवास पर करीब 40 मिनट की मुलाकात के बाद साधु-संत सहज नजर आ रहे थे। साधुओं ने कहा कि मुख्यमंत्री ने आश्वस्त किया है कि अयोध्या में राम मंदिर निर्माण कार्य शीघ्र शुरू होगा। इसके अलावा अयोध्या एवं फैजाबाद के सभी विकास परियोजनाओं को मंजूरी प्रदान की गई है। महंत दास ने मीडिया की उस रिपोर्ट को नकार दिया जिसमें उसने राम मंदिर एवं अन्य मामलों को लेकर भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) सरकार का समर्थन करने की घोषणा की थी। उन्होंने कहा कि हम ऐसी घोषणा कैसे कर सकते हैं।

इस मुलाकात में अयोध्या दौरे के दौरान प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के सामने भी साधु-संतों ने कुछ मांगें रखे जाने का मामला भी उठया। प्रतिनिधिमण्डल ने उत्तर प्रदेश सरकार से भी फैजाबाद से बहने वाली सरयू नदी में मिलने वाली घाघरा नदी का नाम बदलने की मांग की।
मंहत दास के साथ प्रतिनिधिमण्डल में उदासीन अखाड़ा महंत भारत दास एवं अन्य संत सहित भाजपा के विधायक वेदप्रकाश शामिल थे। गत दिनों महंतदास ने एक बयान में कहा था कि भाजपा राम मंदिर निर्माण नहीं कराएगी तो वह वर्ष 2019 में सत्ता में नहीं लौट पाएगी।