केजरीवाल बताएं, झूठ का पर्दाफाश करने पर दिल्ली का अपमान कैसे : अमित शाह

नई दिल्ली। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने बुधवार को दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर झूठ पर झूठ बोलने का आरोप लगाते हुए पूछा है कि जब भारतीय जनता पार्टी उनके झूठ का पर्दाफाश करती है तो इसमें दिल्लीवालों का क्या अपमान हुआ?

शाह ने आठ फरवरी को दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए पार्टी के उम्मीदवार अजीत सिंह खड़खड़ी के पक्ष में आज चुनाव सभा को संबोधित करते हुए जब भाजपा के विधायकों और सांसदों ने दिल्ली के स्कूलों की दुर्दशा की पोल खोली तो मुख्यमंत्री कह रहे हैं कि यह दिल्ली वालों का अपमान है।

उन्होंने कहा कि एक समय दिवंगत प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी और उनके आस-पास रहने वाले कहते थे ‘इंदिरा इज इंडिया, इंडिया इज इंदिरा’। अब भाजपा आपके झूठ का पर्दाफाश करती है तो इसमें दिल्लीवालों का क्या अपमान हुआ? उन्होंने सवाल किया कि आप स्वयं को दिल्ली समझते हो क्या?

गृह मंत्री ने कहा कि आम आदमी का नाटक करने वाले केजरीवाल ने चुनाव से पहले कहा था कि सत्ता में आए तो सरकारी बंगला, सरकारी गाड़ी नहीं लेंगे, लेकिन शपथ लेने के बाद सब भूल गए और गाड़ी, बंगला और अन्य सुविधाओं का पूरा आनंद उठा रहे हैं।

दिल्ली में इस बार नरेंद्र मोदी की अगुवाई में भाजपा की सरकार बनवाने का आह्वान करते हुए शाह ने कहा कि वह कहते हैं कि पांच साल में जहां झुग्गी हैं, वहीं पक्का मकान देने का काम पूरा किया जाएगा। उन्होंने कहा कि केजरीवाल ने पूरी दिल्ली में फ्री वाई-फाई देने का वादा किया था, पूरा नहीं किया। यूरोप जैसी सड़कें बनाने का वादा पूरा नहीं किया गया। दिल्ली की सड़कों पर मालूम ही नहीं पड़ता की गड्ढे में सड़क है या सड़क में गड्ढा।

राजधानी में प्रदूषण के लिए आप सरकार को घेरते हुए शाह ने कहा कि इसके लिए यदि कोई जिम्मेदार है तो केजरीवाल सरकार की निष्क्रियता है। दिल्ली की हवा में जहर घुला है। उन्होंने कहा कि केंद्र की सरकार ने दिल्ली विकास प्राधिकरण की भूमि नीति देहात और किसानों के लिए बनाने का वादा किया था और मोदी की सरकार ने इसे पूरा कर दिखाया है। इसकी वजह से शहरी विकास से जुड़ी हुई सारी योजनाएं गांव में आ जाएंगी।

गृह मंत्री ने कहा कि केजरीवाल और कांग्रेस ने लोगों को नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ उकसाया, भड़काया और दंगे कराए। ये लोग कहते हैं कि हम शाहीन बाग के साथ हैं। उन्होंने कहा कि वह केजरीवाल से फिर पूछते हैं कि आप दिल्ली की जनता को बताओ की आप शाहीन बाग के साथ हो क्या? इस पर केजरीवाल चुप हो जाते हैं, कहते हैं कि दिल्ली का अपमान मत करो। केजरीवाल आपके समक्ष झूठ के जो आरोप हैं, वह दिल्ली का अपमान नहीं है तो क्या है?

गृह मंत्री ने कहा कि दिल्ली की जनता अरविंद केजरीवाल से तंग आ चुकी है और विधानसभा चुनाव में वह आप पार्टी को सत्ता से उतारना चाहती है।