कोटला मैदान पर दिल्ली कैपिटल्स और मुंबई इंडियन्स का हाईवोल्टेज मैच

Delhi Capitals and Mumbai Indians HighVoltage match at Kotla ground
Delhi Capitals and Mumbai Indians HighVoltage match at Kotla ground

नयी दिल्ली । आईपीएल-12 में अच्छी लय में दिखाई दे रही दिल्ली कैपिटल्स गुरूवार को ऊंचे आत्मविश्वास के साथ अपने घरेलू फिरोज़शाह कोटला मैदान पर मुंबई इंडियन्स की कड़ी चुनौती से पार पाते हुये अंक बटोरने उतरेगी।

आईपीएल के आठ मैचों में दिल्ली ने पांच जीते हैं और 10 अंक लेकर वह दूसरे नंबर पर है जबकि मुंबई की टीम के भी एकसमान 10 अंक है लेकिन रन रेट के आधार पर वह तीसरे स्थान पर है। दिल्ली ने पिछला मैच सनराइजर्स हैदराबाद से उसी के मैदान पर 39 रन से जीता था जिससे उसका मनोबल काफी ऊंचा है और वह घरेलू मैदान पर भी इसी लय को कायम रखते हुये हर हाल में अपनी स्थिति मजबूत करना चाहेगी।

मुुंबई ने पिछले मैच में रॉयल चैेलेंजर्स बेंगलुरू को पांच विकेट से हराया है और वह भी दिल्ली को बराबरी की टक्कर देने को तैयार दिख रही है। दोनों टीमों के बीच कोटला के मैदान पर मुकाबला बराबरी का माना जा सकता है लेकिन घरेलू परिस्थितियों में दिल्ली को अधिक फायदा हो सकता है जिसने अपने आखिरी तीन मैच बेंगलुरू, कोलकाता और हैदराबाद से जीते हैं।

दूसरी ओर रोहित शर्मा की कप्तानी में मुंबई काफी उतार चढ़ाव से गुजर रही है और उसमें निरंतरता का अभाव है। उसने पंजाब से मैच जीतने के बाद राजस्थान से अगला मैच गंवाया था, लेकिन पिछले मैच में तालिका की सबसे निचली टीम बेंगलुरू को हराकर वापसी कर ली।

काेटला की धीमी पिच पर मुंबई के बल्लेबाज़ों को कुछ संघर्ष करना पड़ सकता है, हालांकि रोहित, ओपनर क्विंटन डी काक, सूर्यकुमार यादव, ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या के रूप में टीम के पास अच्छे खिलाड़ी हैं। हार्दिक ने पिछले मैच में बेंगलुरू के खिलाफ हरफनमौला खेल दिखाया था और 16 गेंदों में पांच चौके और दो छक्के लगाकर नाबाद 37 रन की पारी से टीम की जीत में अहम भूमिका निभाई थी।

विश्वकप टीम का हिस्सा हार्दिक एक बार फिर फिनिशर की भूमिका में होंगे जबकि गेंदबाजी में लसित मलिंगा, जसप्रीत बुमराह, हार्दिक और क्रुणाल पांड्या मुंबई के अहम खिलाड़ी हैं। बेंगलुरू के खिलाफ मैच में मलिंगा 31 रन पर चार विकेट लेकर सबसे सफल साबित हुये थे। दूसरी ओर दिल्ली की टीम अपने बल्लेबाजों शिखर धवन, पृथ्वी शॉ, कप्तान श्रेयस अय्यर और रिषभ पंत पर निर्भर है। विश्वकप टीम से बाहर रह गये पंत के प्रदर्शन पर सभी की निगाहें रहेंगी जिन्हें राष्ट्रीय टीम का हिस्सा नहीं बनाये जाने पर फिलहाल कई तरह की प्रतिक्रियाएं सामने आ रही हैं।

हैदराबाद के खिलाफ पिछले मैच में कॉलिन मुनरो और श्रेयस ने 40 और 45 रन की उपयोगी पारियां खेली थीं जबकि गेंदबाजों में इशांत शर्मा, कैगिसो रबादा, क्रिस मौरिस, अक्षर पटेल और अमित मिश्रा अहम हैं। रबादा टीम के मुख्य गेंदबाजों में है जिन्होंने पिछले मैच में 22 रन पर चार विकेट हासिल किये थे वहीं कीमो पॉल 17 रन पर तीन विकेट निकालकर मैन ऑफ द मैच रहे थे। मुंबई के मजबूत बल्लेबाजी क्रम को रोकने के लिये इनसे इसी प्रदर्शन को दोहराने की उम्मीद होगी।