गुरुद्वारा बंगला साहिब में आगंतुकों के प्रवेश पर लगी रोक

नई दिल्ली। दिल्ली के ऐतिहासिक गुरुद्वारा बंगला साहिब में आगंतुकों के प्रवेश पर तत्काल प्रभाव से रोक लगा दी गई है। चाणक्यपुरी की सब डिवीजनल मजिस्ट्रेट गीता ग्रोवर ने इस संबंध में आदेश जारी किया है।

ग्रोवर ने गुरुद्वारे में कोरोना संबंधी डीडीएमए (जिला आपदा प्रबंधन प्राधिकरण) की गाइडलाइंस के उल्लंघन का हवाला देते हुए यहां आगंतुकों के प्रवेश पर पाबंदी लगाई है।

उन्होंने बताया कि नई दिल्ली जिले में नियमित आधार पर सभी जगहों का निरीक्षण किया जा रहा है। इस दौरान बंगला साहिब गुरुद्वारे में आगंतुकों की काफी भीड़ देखी गई, जबकि धार्मिक स्थलों पर आगुंतकों के प्रवेश की अनुमति नहीं है, उन्हें केवल खोलने की अनुमति है। उन्होंने इस संबंध में अपनी रिपोर्ट पेश करते हुए यह कार्रवाई की है।

दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी (डीएसजीएमसी) के महासचिव हरमीत सिंह कालका ने इस आदेश पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि यह नियमित प्रक्रिया है। एसडीएम कार्यालय की ओर से हमें पत्र मिला है, लेकिन गुरुद्वारे हमेशा खुले रहेंगे, इन्हें कोई बंद नहीं करवा सकता।

गुरुद्वारा बंगला साहिब के चेयरमैन परमजीत सिंह चंडोक ने भी इस आदेश की आलोचना की है। उन्होंने कहा कि यह बहुत गलत आदेश है। भीड़ तो सिनेमा घरों और एयरपाेर्ट पर भी दिख रही है, वहां भी नियमों का उल्लंघन हो रहा है, लेकिन इससे किसी को कोई आपत्ति नहीं है। कोरोना महामारी के दौरान सबसे खराब हालात के बीच जहां से लोगों को लंगर भेजा गया, उस स्थल को आगंतुकों के लिए बंद करवाने का आदेश समझ से परे है।