दिल्ली लॉकडाउन का अनुपालन नहीं करने पर चार अधिकारियों पर कार्रवाई

नई दिल्ली। केन्द्र सरकार ने कोरोना वायरस के कारण 21 दिन के लॉकडाउन का दिल्ली में ठीक तरीके अनुपालन नहीं करने पर चार बड़े अधिकारियों पर कार्रवाई करते हुए दो अधिकारियों को तुरंत प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है जबकि दो को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है।

केन्द्रीय गृह मंत्रालय के सूत्रों ने रविवार को देर रात बताया कि इन अधिकारियों पर लॉकडाउन का अनुपालन नहीं करने के कारण यह कार्रवाई की गई है। लॉकडाउन के दौरान शनिवार को हजारों की संख्या में मजदूर आनंद विहार समेत अन्य स्थानों पर अपने अपने राज्यों उत्तर प्रदेश और बिहार जाने के लिए जमा हो गए थे। इसकी वजह से कोरोना वायरस को लेकर चिंता होने लगी थी। ऐसी आशंका व्यक्त की जा रही है कि यदि इन मजदूरों में से चंद ही इस वायरस संक्रमित हो तो अपने अपने राज्यों में पहुंच कर इनसे व्यापक स्तर पर कोरोना संक्रमण फैलने का खतरा हो सकता है।

गृह मंत्रालय ने दिल्ली सरकार में परिवहन विभाग में अतिरिक्त मुख्य सचिव और वित्त विभाग में अतिरिक्त मुख्य सचिव को लॉकडाउन का ठीक से अनुपालन नहीं कराने का प्रथम दृष्टा दोषी पाते हुए तुरंत निलंबित करने के आदेश दिए है। इसके अलावा गृह एवं भू भवन विभाग में अतिरिक्त मुख्य सचिव और सीलमपुर के एसडीएम को कारण बताओ नोटिस जारी किए है।

गौरतलब है कि हजारों की संख्या में आनंद विहार बस अड्डे पर बिहार और उत्तर प्रदेश दिल्ली में रहने वाले मजदूर अपने अपने राज्यों में जाने के लिए जमा हो गए थे। जिसकी वजह से है भयावह स्थिति पैदा हो गई थी बाद में उत्तर प्रदेश सरकार ने इन मजदूरों को विशेष बसेें लगाकर उनके गतंव्य तक पहुंचा था। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने इतनी बड़ी संख्या में मजदूरों के दिल्ली से पलायन करने पर नाराजगी भी जताई थी।

चेतावनी! लॉकडाउन का उल्लंघन करने वाले अब भेजे जाएंगे क्वारंटाइन केन्द्र