हिन्दुत्वनिष्ठ संगठनों के फेसबुक पेज से प्रतिबंध हटाने की मांग

नई दिल्ली। विगत कुछ समय से फेसबुक ने पूरे देश के हिन्दुत्वनिष्ठ नेताओं और संगठनों के पृष्ठ अकारण ही बिना सूचना दिए बंद किए हैं। फेसबुक की यह कार्रवाई निंदनीय है। इस कारण हिन्दूओं में गुस्सा बढा है। शनिवार को इसका मुखर विरोध अन्य सामाजिक माध्यमों पर देखने को मिला। हिन्दुत्वनिष्ठ मान्यवरों और संगठनों के पृष्ठों पर लगाया गया प्रतिबंध तत्काल हटाया जाए, यह मांग सभी स्तरों पर की जा रही है।

फेसबुक भारत के हिन्दुत्ववादी कार्यकर्ताओं, संगठनों, मीडिया, नेताओं पर पक्षपाती कार्यवाही कर रहा है, उनके पोस्ट डिलीट करना, उनके फॉलोअर्स की संख्या कम करना, उन्हें बार बार नोटिस भेजकर विचार स्वतंत्रता पर प्रतिबंध लगाना, जैसे मनमानी कार्य आरंभ है।

फेसबुक ने कोई भी कारण न बताते हुए हिन्दू जनजागृति समिति का पेज facebook.com/HinduAdhiveshan सहित जिला और राज्यस्तरीय कुल 35 पेज बंद किए हैं साथ ही सनातन प्रभात नियतकालिक का पेज facebook.com/sanatanprabhat, सनातन शॉप का पेज facebook.com/sanatanshop इन पृष्ठों पर भी प्रतिबंध लगाया गया है।

उसी प्रकार सुदर्शन टीवी, भाजपा के तेलंगाना के विधायक टी राजासिंग सहित अनेक हिन्दुत्वनिष्ठों के फेसबुक पेजेस पर प्रतिबंध लगाया गया है। कोई भी कारण अथवा बिना किसी सूचना के यह कार्यवाही की गई है।

वास्तव में यदि किसी भी पोस्ट अथवा साहित्य के संदर्भ में आक्षेप हो तो फेसबुक द्वारा सूचना दी जानी चाहिए, किन्तु वैसी कोई भी सूचना नहीं दी गई। दूसरी ओर जातिगत द्वेष निर्माण करने वाले भडकाऊ भाषण करने वाले तथा आतंकवादी कार्यवाही के कारण भारत सरकार द्वारा प्रतिबंधित ‘इस्लामिक रिसर्च फाऊंडेशन’ के डॉ. जाकीर नाईक, देशद्रोही कार्यों में संलग्न ‘पॉप्युलर फ्रंट ऑफ इंडिया’ के फेसबुक खाते चालू ही है।

इस अन्यायपूर्ण कृति के विरोध में पूरे देश के हिन्दू बंधुओं द्वारा शनिवार को विविध माध्यमों से फेसबुक का निषेध किया गया। ट्विटर पर इस विषय में #Facebook_Suppress_Hindu_Voices यह ट्रेंड चलाया गया। अनेक हिन्दू बंधुओं सहित मान्यवरों ने फेसबुक की अन्यायपूर्ण कार्यवाही के विरोध में इस ऑनलाइन अभियान में सहभाग लिया।

हिन्दू संगठनों का हो रहा दमन रोकने हेतु संबंधित सरकारी व्यवस्था और मंत्री पर भी तत्काल कार्यवाही की जाए, इस आशय का निवेदन ई-मेल द्वारा भेजा गया। पूरे देश के विविध राज्य, जिलों में यह आंदोलन किया जा रहा है। हिन्दुत्वनिष्ठ संगठन और मान्यवरों के फेसबुक पेज से प्रतिबंध हटाने तक यह आंदोलन जारी रहेगा ऐसा हिन्दू जनजागृति समिति ने कहा है।