जासूस हमला, ब्रिटेन को मिला ईयू का साथ

Detective Assault EU With Britain
Detective Assault EU With Britain

ब्रसेल्स.ब्रिटेन को रूस के पूर्व जासूस पर हमले को लेकर रूस पर लगाये गये आरोपों पर यूरोपीय संघ (ईयू) का साथ मिल गया है। यूरोपीय संघ ने विरोध स्वरूप रूस से अपने दूत को वापस बुला लिया है।

ब्रसेल्स में हो रहे यूरोपीय संघ के सम्मेलन में संघ के नेताओं ने एक साझा बयान में कहा, “वे ब्रिटेन की सरकार के मूल्यांकन से पूरी तरह से सहमत है कि इस हमले के पीछे रूस का हाथ होने की प्रबल आशंका है।”

सम्मेलन में आज हुई वार्ता के बाद जर्मनी की चांसलस एंजेला मर्केल ने इस हमले के जवाब में दंडात्मक कदम उठाने की बात कही। मर्केल ने कहा कि यूरोपीय संघ को इस मुद्दे पर एक साथ प्रयास करना चाहिए। उन्होंने सम्मेलन के पहले दिन के अंत में कहा, “हम यहां एक सुर में एक साथ प्रतिक्रिया देने के लिए दृढ़ संकल्प हैं लेकिन अतिरिक्त कदम उठाकर भी हम ऐसा कर सकते हैं।”

यूरोपीय संघ का समर्थन ब्रिटेन के लिए एक बड़ी कामयाबी मानी जा रही है। ब्रिटेन चार मार्च को रूस के डबल एजेंट सेरगई स्क्रीपल और उसकी बेटी यूलिया की हत्या के लिए रूस की निंदा करने के लिए यूरोपीय संघ को मनाने का प्रयास कर रहा था। यूरोपीय संघ का यह निर्णय ऐसे समय में आया है जब ब्रिटेन की प्रधानमंत्री थेरेसा मैरी मे ब्रिटेन के निर्णय के साथ दूसरे राष्ट्रों के खड़े होने का इंतजार कर रही थी।