पुष्कर में कार्तिक पूर्णिमा का महास्नान, लाखों श्रद्धालुओं ने लगाई डुबकी

अजमेर। अंतरराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त पुष्कर मेला आज कार्तिक पूर्णिमा के महास्नान के साथ विधिवत संपन्न हो गया।

कार्तिक पूर्णिमा के स्नान में देशभर से आए लाखों श्रद्धालुओं ने भाग लिया। दिनभर खराब रहे मौसम और गिरे हुए तापमान के बावजूद पवित्र पुष्कर सरोवर के घाटों पर स्नान के लिए श्रद्धालुओं का रेला लगा रहा। मोटे अनुमान के अनुसार दिनभर में कोई सवा लाख से ज्यादा लोगों ने कार्तिक स्नान कर पुण्य कमाया।

राजस्थान में अजमेर के निकटवर्ती मंदिरों एवं जगतपिता ब्रह्मा की नगरी पुष्कर में आज अलसुबह से ब्रहमूहुर्त में कार्तिक महास्नान शुरू हुआ जो दिनभर चला। इसके साथ ही पंचतीर्थ स्नान का धार्मिक मेला पूरी तरह संपन्न हो गया।

पुष्कर आए श्रद्धालुओं ने जगतपिता ब्रह्मा जी के दर्शन किए जहां भीड़ के दबाव को देखते हुए एकतरफा यातायात भी मंदिर परिसर में कर दिया गया। ब्रह्मा मंदिर को विशेष फूलों से सजाया गया।

पुष्कर मेले के दौरान चल रहा श्री पुष्कर पशुहाट मेला भी जारी है जो 21 नवंबर को विधिवत संपन्न हो जाएगा। पशु मेले में पशुओं की कमी के बावजूद कोई चार करोड़ का कारोबार होना सामने आया है।

ऊंट और घोड़ों की सर्वाधिक संख्या अब धीरे धीरे कम हो रही है और पशु मेला मैदान खाली होता नजर आ रहा है। पुष्कर मेला कोरोनाकाल में मिली सरकारी छूट के बाद अपनी परंपरागत ऊंचाइयों को छूता हुआ सफलतापूर्वक संपन्न हो गया।