जैसलमेर में बसपा विधायकों को हाईकोर्ट के नोटिस कराए तामिल

जैसलमेर। राजस्थान उच्च न्यायालय द्वारा बहुजन समाजवादी पार्टी के छह विधायकों के कांग्रेस में सम्मिलित होने के मामले में जारी किए गए नोटिस आज विधायकों को तामिल कराए गए।

जैसलमेर जिला सत्र न्यायधीश के न्यायालय रीडर एवं दो अन्य न्यायिक कर्मियों की टीम ने शुक्रवार को सूर्यगढ़ होटल में जाकर इन विधायकों को नोटिस तामिल करवाए। इस अवसर पर जैसलमेर पुलिस अधीक्षक अजय सिंह एवं अन्य पुलिस अधिकारी मौजूद थे।

इन बसपा विधायकों के शनिवार को इसका जवाब उच्च न्यायालय में दाखिल करने की संभावना है लेकिन इस मामले में राजनीति में उबाल आ गया हैं।

कांग्रेस संगठन के महामंत्री केसी वेणुगोपाल व राजस्थान फाउंडेशन के धीरज श्रीवास्तव, अजय माकन के पुत्र ओजस्वी माकन आदि अन्य कुछ नेता दिल्ली से जैसलमेर पहुंचे हैं। इसके अलावा कांगेस के हाईकोर्ट के वकील भी जयपुर से जैसलमेर आए हैं।

वेणुगोपाल, वकील आदि इन छह विधायकों को वापस जवाब देने के लिए मदद कर रहे हैं। इसके साथ ही खान मंत्री प्रमोद जैन भाया दो अन्य विधायकों के साथ जयपुर रवाना हो गए।

वहीं दूसरी तरफ मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का जैसलमेर आने का कार्यक्रम भी आज खराब मौसम होने के कारण रद्द हो गया। अब उनके कल आने की संभावना है। कांग्रेस के विधायक हाकिम अली जयपुर से जैसलमेर वापस लौट आए हैं।

कांग्रेस विधायकों एवं मंत्रियों के लिए खासतौर पर तनोट मंदिर खोल दिया गया। गुरूवार सांय एवं शुक्रवार सुबह कई मंत्रियों व विधायकों ने भारत पाक सीमा पर स्थित तनोट मातेश्वरी मंदिर के दर्शन किए व पूजा अर्चना की।