करुणानिधि के स्वास्थ्य में काफी ज्यादा गिरावट

DMK chief Karunanidhi's health declines
DMK chief Karunanidhi’s health declines

चेन्नई। तमिलनाडु के पूर्व मुख्यमंत्री और द्रमुक अध्यक्ष एम करुणानिधि के स्वास्थ्य में काफी गिरावट दर्ज की गई है लेकिन चिकित्सा उपकरणों के सहारे उनके सभी अंग सामान्य तरीके से काम कर रहे हैं। कावेरी अस्पताल ने रविवार देर रात यहां एक मेडिकल बुलेटिन में यह जानकारी दी।

कावेरी अस्पताल के कार्यकारी निदेशक डा. अरविंदन सेल्वराज ने मेडिकल बुलेटिन में बताया कि करुणानिधि के स्वास्थ्य पर विशेषज्ञ डाक्टरों का पैनल बेहद बारीकी से नजर रख रहा है। बुलेटिन में कहा गया है कि उनके स्वास्थ्य में काफी ज्यादा गिरावट दर्ज की गई है लेकिन चिकित्सा उपकरणों के सहारे उनके आवश्यक अंग सामान्य रूप से काम कर रहे हैं।

गौरतलब है कि इससे कुछ घंटे पहले उप राष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने कावेरी अस्पताल पहुंचकर करुणानिधि के स्वास्थ्य के बारे में जानकारी लेने के बाद कहा था कि उनकी हालत स्थिर है। नायडू के साथ तमिलनाडु के राज्यपाल बनवारी लाल पुरोहित और करुणानिधि के परिवार के सदस्यों ने भी उनके स्वास्थ्य के बारे में डाक्टरों से बातचीत की थी।

करुणानिधि को रक्तचाप और मूत्र नली में संक्रमण की शिकायत के बाद कुछ दिन पहले अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

द्रमुक के प्रचार सचिव तथा पूर्व केंद्रीय मंत्री ए राजा ने पत्रकारों को बताया कि यह सच है कि करुणानिधि के स्वास्थ्य में फिलहाल काफी गिरावट है लेकिन डाक्टरों ने चिकित्सा उपकरणों के सहारे उनके स्वास्थ्य को नियंत्रित कर लिया है।

उन्होंने बताया कि चिकित्सा उपकरणों की सहायता से उनके स्वास्थ्य को सामान्य किया गया है और आईसीयू में डाक्टरों का पैनल उनके स्वास्थ्य पर लगातार बारीक नजर बनाए हुए है। उन्होंने द्रमुक कार्यकर्ताओं से अपील की कि वे किसी तरह की अफवाह पर विश्वास न करें।

करुणानिधि (94) पिछले दो वर्षों से बढ़ती आयु के कारण अपने आवास तक ही सीमित थे। कुछ दिन पहले उन्हें बुखार और मूत्र नली में संक्रमण हुआ था और डाक्टरों का एक दल घर पर उनके उपचार में लगा हुआ था।

शनिवार सुबह करुणानिधि का रक्तचाप काफी कम होने के बाद उनको बेहतर उपचार के कावेरी अस्पताल ले जाया गया था। चिकित्सा उपचार के बाद करुणानिधि के रक्तचाप को सामान्य कर लिया गया था और उनका स्वास्थ्य स्थिर बना हुआ था लेकिन रविवार शाम उनका स्वास्थ्य एक बार फिर से काफी गिर गया था।