एक दशक बाद होगी पाकिस्तान में घरेलू टेस्ट सीरीज

domestic Test series will be held in Pakistan after a decade
domestic Test series will be held in Pakistan after a decade

लाहौर। पाकिस्तान में एक दशक से भी लंबे अर्से बाद द्विपक्षीय टेस्ट सीरीज़ की शुरूआत होने जा रही है जिसके लिए दिसंबर में श्रीलंकाई टीम दौरे पर जाएगी। दिलचस्प है कि श्रीलंकाई टीम पर ही आतंकवादी हमले के बाद से पाकिस्तान में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट लगभग बंद है।

दो मैचों की इस सीरीज़ का पहला मुकाबला रावलपिंडी के पिंडी क्रिकेट स्टेडियम में 11 से 15 दिसंबर तक खेला जाएगा जबकि कराची के नेशनल स्टेडियम में दूसरा मैच 19 से 23 दिसंबर को होगा। यह सीरीज़ आईसीसी की विश्व टेस्ट सीरीज़ का हिस्सा है।

वर्ष 2009 में श्रीलंकाई क्रिकेट टीम की बस पर लाहौर के गद्दाफी स्टेडियम के बाहर आतंकवादियों ने गोलियों से हमला कर दिया था जिसमें कुछ खिलाड़ी चोटिल हुए थे। इसके बाद से ही पाकिस्तान को विदेशी टीमों से अपने घरेलू मैच संयुक्त अरब अमीरात में खेलने पड़ रहे थे।

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने मीडिया में जारी बयान में कहा कि श्रीलंका को पहले अक्टूबर में टेस्ट खेलने थे और दिसंबर में वे सीमित ओवर के लिए वापिस आती लेकिन मैचों का कार्यक्रम बदला गया है ताकि उन्हें टेस्ट स्थलों का अंदाज़ा लग सके।

पीसीबी निदेशक जाकिर खान ने कहा किे पाकिस्तान के लिए एक दशक बाद यह बड़ी खुशखबरी है और दुनिया के बाकी देश भी यहां खेलने आ सकेंगे। हम श्रीलंकाई क्रिकेट के शुक्रगुजार हैं कि उन्होंने अपनी टीम को टेस्ट के लिए यहां भेजा है और देश में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को फिर से शुरू करने में यह मददगार होगा। श्रीलंका वनडे और ट्वंटी 20 मैचों के लिए 27 सितंबर से 9 अक्टूबर तक पाकिस्तान का दौरा कर चुकी है।