ट्रंप ने ईरान के तीन ठिकानों पर हमले को 10 मिनट पहले रोका

वाशिंगटन। अमरीका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने शुक्रवार को कहा कि अमरीकी ड्रोन के मार गिराए जाने के बाद इसका जवाब देने के लिए अमरीकी सेना ईरान के तीन ठिकानों को अपना निशाना बनाने के लिए पूरी तरह से तैयार थी लेकिन हमले के 10 मिनट पहले उन्होंने इसे रोक दिया।

ट्रंप ने कहा कि हम कल रात ईरान के तीन अलग-अलग ठिकानों पर जवाबी कार्रवाई के लिए तैयार थे, जब मैंने पूछा कि इसमें कितने लोग मारे जाएंगे तो एक जनरल ने जवाब दिया, 150 लोग, सर। हमले के 10 मिनट पहले मैंने इसे रोक दिया।”

ट्रंप ने एक ट्वीट में कहा कि उन्हें हमले का जवाब देने की कोई जल्दी नहीं है और उनकी सेना पूरी तरह से तैयार है। अमरीकी सीनेटर एड मार्के ने शुक्रवार को एक बयान में कहा कि कांग्रेस को इस कार्रवाई पर कानूनी तर्क के साथ जवाब चाहिए।

मार्के ने कहा कि हमलों को रोकना सही था लेकिन ईरान के साथ इस स्थिति में इसलिए है क्योंकि राष्ट्रपति ट्रंप और कैबिनेट के पास अमरीकी हितों के लिए वास्तविक खतरा बने ईरान से निपटने के लिए कोई रणनीति नहीं है।

अमरीकी राष्ट्रपति ने कहा कि वर्तमान में ईरान पर लगाया गया आर्थिक प्रतिबंध काम कर रहा है और अमरीका ने गुरुवार रात इनमें और प्रतिबंध जोड़े हैं। अमरीका के वित विभाग ने अभी तक ईरान के खिलाफ किसी तरह के नए प्रतिबंध की घोषणा नहीं की है।