राजस्थान रॉयल्स को दोहरा झटका, जोस बटलर तथा बेन स्टोक्स इंग्लैंड लौटेंगे

राजस्थान रॉयल्स को दोहरा झटका, जोस बटलर तथा बेन स्टोक्स इंग्लैंड लौटेंगे
राजस्थान रॉयल्स को दोहरा झटका, जोस बटलर तथा बेन स्टोक्स इंग्लैंड लौटेंगे

कोलकाता। आईपीएल-11 के प्लेऑफ में पहुंचने के लिए अगर-मगर के फेर में फंसी राजस्थान रॉयल्स को दोहरा झटका लगा है और उसके दो इंग्लिश खिलाड़ी जोस बटलर तथा बेन स्टोक्स पाकिस्तान के खिलाफ टेस्ट सीरीज़ की तैयारी के लिये इंग्लैंड लौटेंगे।

राजस्थान को मंगलवार को कोलकाता नाइटराइडर्स के हाथों हार का सामना करना पड़ा था जिससे उसकी प्लेऑफ की उम्मीदों को गहरा झटका लगा था। राजस्थान के 13 मैचों से 12 अंक हैं और वह तालिका में चौथे स्थान पर है। राजस्थान को अपना अंतिम मैच जीतना है और साथ ही यह भी देखना है कि दूसरी टीमों का परिणाम और नेट रन रेट क्या रहता है।

राजस्थान के कप्तान अजिंक्या रहाणे ने मैच के बाद कहा कि हमें जोस और स्टोक्स की कमी खलेगी। हम जानते हैं कि वे कितने खतरनाक खिलाड़ी हैं। लेकिन साथ ही मुझे जोस के लिए खुशी है कि उन्हें इंग्लैंड की टेस्ट टीम में चुन लिया गया है।

इंग्लैंड का पाकिस्तान के खिलाफ पहला टेस्ट 24 मई से लार्ड्स मैदान पर शुरू होगा जिसकी तैयारी के लिए इन दोनों खिलाड़ियों को स्वदेश लौटना होगा। बटलर ने आईपीएल-11 में जबरदस्त प्रदर्शन किया है और उन्होंने लगातार पांच अर्धशतक लगाकर आईपीएल में वीरेंद्र सहवाग के 2012 में लगातार पांच अर्धशतक बनाने के रिकार्ड की बराबरी की है।

इंग्लैंड के लिए 18 टेस्ट खेलने वाले बटलर ने अपना आखिरी टेस्ट दिसंबर 2016 में भारत के खिलाफ चेन्नई में खेला था। बटलर को आईपीएल-11 में जबरदस्त प्रदर्शन का फायदा टेस्ट टीम में वापसी के रूप में मिला। उन्होंने पिछले छह मैचों में 67, 51, 82, नाबाद 95, नाबाद 94 और 39 रन बनाए।

बटलर ने अब तक 13 मैचों में 54.80 के औसत से 548 रन बनाए हैं जिनमें पांच अर्धशतक शामिल है। हालांकि दूसरी ओर स्टोक्स का प्रदर्शन उम्मीदों के अनुरूप नहीं रहा है। स्टोक्स ने 13 मैचों में 16.33 के मामूली औसत से 196 रन बनाये हैं और आठ विकेट हासिल किए हैं।

इंग्लैंड के राष्ट्रीय चयनकर्ता एड स्मिथ ने टेस्ट टीम की घोषणा करते हुए कहा कि बटलर बेहद प्रतिभाशाली खिलाड़ी हैं जो खुद को सफेद गेंद के साथ साबित कर चुके हैं। चयन पैनल का महसूस करना है कि जोस को टेस्ट क्रिकेट में लाया जाए जहां वह कुछ सफलता हासिल कर चुके हैं। वह हमारे लिए मध्य क्रम में उपयोगी बल्लेबाज़ साबित हो सकते हैं अौर टीम को मजबूती दे सकते हैं।