अजमेर के भाजपा कार्यालय में मनाई श्यामा प्रसाद मुखर्जी जयंती

अजमेर। जनसंघ के संस्थापक सदस्य डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी की जयंती के पखवाड़े पर भारतीय जनता पार्टी शहर जिला अजमेर की ओर से पार्टी कार्यालय पर पुष्पांजलि अर्पित की गई तथा पौधारोपण किया गया।

शहर जिलाध्यक्ष डॉ प्रियशील हाड़ा ने कहा कि डॉ. मुखर्जी एक अद्वितीय चिंतक थे जिनका मानना था कि सत्ता का मूल उद्देश्य राज करना नहीं बल्कि राष्ट्र-निर्माण के लिए समर्पित भाव से कार्य करना है। उनका सांस्कृतिक राष्ट्रवाद का दर्शन और भारत की मूल संस्कृति के अनुरूप नीतियों को अपनाने के विचार हमेशा हमारा पथ प्रदर्शन करते रहेंगे।

उत्तर विधायक वासुदेव देवनानी ने कहा कि एक समय जम्मू-कश्मीर में प्रवेश के लिए परमिट लेना पड़ता था। डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी ने एक विधान, एक प्रधान और एक निशान के संकल्प के लिए बलिदान देकर कश्मीर से परमिट राज खत्म कर उसे भारत का अभिन्न अंग बनाया। डॉ. मुखर्जी के इस संघर्ष और त्याग के हम सदैव ऋणी रहेंगे और आज की मोदी सरकार ने धारा 370 को हटा कर उनके ही पदचिन्हों पर चलने का कार्य किया है।

पुष्कर विधायक सुरेश रावत ने कहा कि एक महान विचारक, सांस्कृतिक राष्ट्रवाद के उद्योतक जिन्होंने बहुत कम समय मे औद्योगिक नीति से भारत को मजबूती प्रदान करने का प्रयास किया ऐसे डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी का राष्ट्र की एकता एवं अखंडता के लिए दिया गया योगदान भाजपा के कार्यकर्ताओं के लिए आदर्श है।

कार्यक्रम में पूर्व जिलाध्यक्ष अरविन्द यादव, धर्मेश जैन, तिलक रावत, आनंद सिंह राजावत, दीपक सिंह, भारती श्रीवास्तव, राजेश शर्मा, हेमन्त सांखला, रवि मित्तल, अंकित गुर्जर, देवेन्द्र सिंह शेखावत, रोहित यादव आदि उपस्थित रहे।