केरल में सोने की तस्करी के मामले में ईडी ने स्वप्ना सुरेश से की पूछताछ

तिरुवनंतपुरम। केरल के गोल्ड स्मगलिंग केस में मुख्य आरोपी स्वप्ना सुरेश बुधवार को अपना बयान दर्ज कराने के लिए प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के समक्ष पेश हुईं।

उन्होंने हाल ही में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर उनसे मिलने का अवसर देने का अनुरोध किया था। इससे पहले स्वप्ना ने सीआरपीसी की धारा 164 के तहत मजिस्ट्रेट कोर्ट के सामने गवाही दी थी।

सूत्रों ने बताया कि तिरुवनंतपुरम में संयुक्त अरब अमीरात के वाणिज्य दूतावास की पूर्व कर्मचारी स्वप्ना से ईडी ने पांच घंटे से अधिक समय तक के लिए पूछताछ की और उन्हें फिर से 23 जून को पेश होने के लिए कहा गया है।

उल्लेखनीय है कि मंगलवार को पीएम मोदी को लिखे पत्र में स्वप्ना ने उनसे मिलने की इजाजत मांगी ताकि वह इस मसले के बारे में उनसे अधिक गहराई से बात कर सके।

स्वप्ना ने सीबीआई जांच की मांग करते हुए कहा कि चूंकि राज्य सरकार के अधिकारी खुद प्रमुख संदिग्ध हैं इसलिए उन्हें बलि का बकरा बनाया जा रहा है।

केरल के मुख्यमंत्री और उनके परिवार के सदस्यों के इस मामले में शामिल होने का आरोप लगाते हुए स्वप्ना ने कहा कि केवल सीबीआई जांच ही सच्चाई सामने ला सकती है।