मिस्र : दो अलग-अलग मामलों में 31 को मौत की सजा

Egyptian courts sentence 31 to death for killings, prison escape
Egyptian courts sentence 31 to death for killings, prison escape

काहिरा। मिस्र की अदालतों ने गुरुवार को दो अलग-अलग मामलों में 31 लोगों को मौत की सजा सुनाई। इसमें एक मामला वर्ष 2015 में एक पुलिसकर्मी तथा एक सुरक्षागार्ड की हत्या से जुड़ा हुआ है तथा दूसरा वर्ष 2016 में इस्लामिक स्टेट (आईएस) के आतंकवादियों के जेल से भागने से संबंधित है।

मिस्र की सरकारी संवाद एजेंसी मीना की रिपोर्ट के अनुसार एल-जागाजीग के नाइल डेल्टा शहर की स्थानीय अदालत ने एक पुलिसकर्मी तथा गार्ड की हत्या के मामले में 18 लोगों को मौत की सजा सुनाई।

एजेंसी ने बताया कि दोनों एक स्थानीय अस्पताल में गोली लगने से घायल हो गये थे और बाद में उनकी मौत हो गई थी। जांच में दोनों की हत्या के पीछे 18 लोगों के शामिल होने का खुलासा हुआ था।

एक अन्य मामले में इस्लामिया की स्थानीय अदालत ने अक्टूबर 2016 में जेल से आईएस आतंकवादियों के भागने के मामले 13 लोगों को मौत की सजा सुनाई जिनमें कुछ आईएस आतंकवादी भी शामिल हैं।

सरकारी अखबार अल-अहराम ने अपनी वेबसाइट पर बताया है कि सजा पाये 13 अपराधियों में से छह अपराधी हिरासत में हैं जबकि सात अपराधी फरार और उन्हें पकड़े की कोशिश की जा रही है।