भड़काऊ भाषण देने के मामले में आजम खान के खिलाफ नोटिस जारी

नई दिल्ली। चुनाव आयोग ने समाजवादी पार्टी नेता आजम खान पर भड़काऊ भाषण देने के मामले में मंगलवार की रात नोटिस जारी किया।

आयोग के सूत्रों के मुताबिक गत पांच, सात, आठ और 12 अप्रेल को दिए गए चुनावी भाषणों में साम्प्रदायिक विद्वेष फैलाने के आरोप में नोटिस जारी किया गया है। नोटिस में कहा गया कि आपके भाषणों से आदर्श चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन हुआ है इसलिए इस संबंध में आप दो दिन के भीतर आयोग को अपना स्पष्टीकरण दें। आयोग ने खान को 24 घण्टे के भीतर जवाब देने के लिए कहा है।

इससे पहले सोमवार को चुनाव आयोग ने विवादास्पद भाषणों के जरिये आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन के मामलों में खान और केंद्रीय मंत्री मेनका गांधी पर क्रमश: 72 तथा 48 घंटे के लिए चुनाव प्रचार पर रोक लगा दी थी।

आयोग ने इन दोनों नेताओं को 16 अप्रेल को सुबह 10 बजे से उनके चुनाव प्रचार में भाग लेने, जनसभाएं करने, रोड शो आयोजित करने, मीडिया के सामने बयान देने और साक्षात्कार देने आदि पर रोक लगाई है।

उल्लेखनीय है कि आजम खां ने रविवार को अभिनेत्री और भारतीय जनता पार्टी की रामपुर लोकसभा सीट से उम्मीदवार जया प्रदा को लेकर बेहद शर्मनाक बयान दिया था जिसके बाद चारों तरफ उनकी आलोचना की जा रही थी।

इस मामले में चुनाव आयोग से आजम पर सख्त कार्रवाई की मांग की गई थी। उनके अलावा केंद्रीय मंत्री और सुल्तानपुर से भाजपा प्रत्याशी मेनका गांधी ने भी कुछ दिनों पहले मुस्लिम समुदाय के उनको वोट देने को लेकर विवादास्पद बयान दिया था।