तमिलनाडु विधानसभा चुनाव परिणाम : मतगणना जारी

चेन्नई। तमिलनाडु में एक ही चरण में संपन्न हुए विधानसभा चुनाव के लिए रविवार सुबह आठ बजे से कोविड प्रोटोकॉल और कड़ी सुरक्षा के बीच मतगणना जारी है। राज्य में 234 सीटों पर 3,998 उम्मीदवारों के किस्मत का फैसला आज हो जाएगा।

तमिलनाडु में 11 बजे तक दलीय स्थिति

तमिलनाडु में विधानसभा चुनावों की 234 सीटों के लिए रविवार सुबह आठ बजे से मतगणना शुरू होने के बाद 11 बजे तक की दलीय स्थिति इस प्रकार है:

पार्टी………………………….जीत……………आगे…………कुल
अन्नाद्रमुक…………………….0………………..81………….81
भारतीय जनता पार्टी…………….0………………3……………3
भाकपा…………………………0………………2…………..2
माकपा…………………………0………………2…………..2
द्रमुक………………………….0………………96…………96
कांग्रेस…………………………0……………….10…………10
मक्कल निधी मैयम…………….0……………….1…………..1
पट्टाली मक्कल काचि………..   0……………….10…………10
विदुथलई चिरुिथाईगल काचि..   0…………………2…………..2
कुल ………………………….0………………210………..210

राज्य विधानसभा के चुनाव छह अप्रैल को एक चरण में ही संपन्न हुआ था। तमिलनाडु में मतगणना सुबह आठ बजे शुरू हो गयी है और निर्धारित व्यवस्था के तहत पहले डाकमतों की गणना की जाएगी तथा दोपहर तक मतगणना के रूझान आने शुरू हो जाएंगे।

निर्वाचन आयोग के अनुसार राज्य के 6.29 करोड़ मतदाताओं में से 72.81 प्रतिशत मतदाताओं ने अपने मताधिकार को इस्तेमाल किया था। विधानसभा चुनाव परिणामों के अलावा, कन्याकुमारी लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र के लिए उपचुनाव के परिणाम भी कल ही आएगा। इस सीट पर कांग्रेस सांसद एच. वसंत कुमार की मृत्यु के कारण इस रिक्त स्थान को भरने के लिए उपचुनाव कराए गए थे, जिनकी कोरोना संक्रमण से मृत्यु हो गई थी।

उप चुनाव में पूर्व केंद्रीय मंत्री और भारतीय जनता पार्टी के पी राधाकृष्णन और कांग्रेस उम्मीदवार विजय वसंत के बीच टक्कर देखने को मिल सकती है। सत्तारूढ़ अन्नाद्रमुक सरकार और मुख्य विपक्षी एम. के. स्टालिन की अगुवाई वाली द्रमुक के बीच टक्कर होने की संभावना है। यहां मुख्य मुकाबला सत्तारूढ़ दल अन्नाद्रमुक और मुख्य विपक्षी द्रमुक के बीच है।

सत्तारूढ़ अन्नाद्रमुक और विपक्षी द्रमुक दोनों के लिए यह पहला विधानसभा चुनाव के तौर पर माना जा रहा है क्योंकि इन दोनों पार्टियों के दो कद्दावर नेता जे जयललिता और एम करुणानिधि का निधन हो चुका है।

राज्य में पूरे 75 मतगण्ना केन्द्रों में मतों की गिनती सुबह आठ से शुरू हो गई है, जिनमें से चार केन्द्र चेन्नई में हैं। चुनाव आयोग ने त्रि-स्तरीय सुरक्षा के लिए राज्य पुलिस कर्मियों के अलावा केन्द्रीय अर्द्धसैनिक बलों को तैनात किया गया है। राज्य में मतगणना कराने के लिए सभी केन्द्रों में वीडियोग्राफी और सीसीटीवी कैमरों को लगाया गया है।

आयोग के अनुसार मतगणना केंद्र के 100 मीटर के दायरे में किसी भी वाहन को जाने की अनुमति नहीं होगी। राज्य के सभी मतगणना केंद्रों पर कोविड-19 प्रोटोकॉल के पालन को लेकर के चुनाव आयोग प्रतिबद्ध है। साथ ही इसके लिए विशेष प्रबंध चुनाव आयोग की ओर से किया गया है।

कोविड-19 के सख्त दिशा-निर्देशों के साथ उम्मीदवारों, मतगणना एजेंटों और अन्य को केवल कोरोना वायरस की निगेटिव रिपोर्ट के साथ ही मतगणना केंद्रों में प्रवेश की अनुमति दी जाएगी या फिर उनको कोरोना टीकों की दोनों खुराक लिए होना चाहिए। मतगणना प्रक्रिया निर्वाचन क्षेत्र के आधार पर न्यूनतम 15 दौर से लेकर अधिकतम 30-35 दौर तक चलेगी।