बंगाल में तृणमूल कांग्रेस की शानदार वापसी, नंदीग्राम में ममता हारी

कोलकाता। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री एवं तृणमूल कांग्रेस की प्रमुख ममता बनर्जी ने रविवार को कहा कि उनकी पहली प्राथमिकता कोरोना वायरस (कोविड-19) से निपटना है और वह इस महामारी के खिलाफ लड़ाई जारी रखेंगी।

बनर्जी ने संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि वह केंद्र से सहायता लेंगी और महामारी की दूसरी लहर के प्रभाव को कम करने के अपने प्रयासों को प्राथमिकता देंगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि इस जीत ने बंगाल के लोगों को बचा लिया। उन्होंने अपनी पार्टी के कार्यकर्ताओं से जीत का जश्न नहीं मनाने का आग्रह किया। कोरोना संकट को देखते हुए शपथ समारोह का आयोजन भी छोटे स्तर पर होगा। बनर्जी ने अपनी पार्टी के प्रदर्शन को शानदार जीत बताया।

उधर, भारतीय जनता पार्टी के शुवेंदु अधिकारी नंदीग्राम विधानसभा क्षेत्र में बेहद करीबी मुकाबले में बनर्जी से जीत गए हैं। अधिकारी 1957 मतों से जीते हैं। इससे पहले ऐसी रिपोर्टें आईं थी कि बनर्जी 1,200 मतों से जीती हैं। बनर्जी ने नंदीग्राम से अपनी हार स्वीकार करते हुए कहा कि मैं नंदीग्राम के लोगों के फैसले को स्वीकार करती हूं।

बनर्जी ने कहा कि नंदीग्राम को लेकर चिंतित न हों। मैंने नंदीग्राम के लिए संघर्ष किया क्योंकि मैंने एक आंदोलन चलाया। नंदीग्राम के लोग जो भी फैसला करना चाहते हैं, उन्हें करने दें। मैं इसे स्वीकार करती हूं। मुझे कोई आपत्ति नहीं है। हम 221 से अधिक सीट जीते हैं और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) चुनाव हार गई है। मुख्यमंत्री ने कालीघाट के अपने निवास से पार्टी कार्यकर्ताओं से बातचीत के दौरान कहा कि यह बंगाल की जीत है।

यह भी पढें
पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव परिणाम
असम विधानसभा चुनाव परिणाम
तमिलनाडु विधानसभा चुनाव परिणाम
पुड्डुचेरी विधानसभा चुनाव परिणाम
केरल विधानसभा चुनाव परिणाम
राजस्थान विधानसभा उपचुनाव परिणाम