‘एनकाउंटर स्पेशलिस्ट’ प्रदीप शर्मा का इस्तीफा, बीजेपी में शामिल होने की अटकलें

मुंबई। महाराष्ट्र पुलिस के ‘एनकाउंटर स्पेशलिस्ट’ प्रदीप शर्मा ने अचानक पुलिस सेवा से इस्तीफा दे दिया है और अब उनके भारतीय जनता पार्टी में शामिल होकर राजनीति में नई पारी की शुरूआत करने की अटकलें लगाई जा रही हैं।

बताया जाता है कि 100 से अधिक एनकाउंटर कर चुके शर्मा ने चार जुलाई को ठाणे पुलिस आयुक्त को अपना इस्तीफा भेजा था। फिलहाल ठाणे एंटी एक्सटॉर्शन सेल में सीनियर पुलिस ऑफिसर के पद पर कार्यरत शर्मा के इस्तीफे को अभी तक स्वीकार नहीं किया गया है।

कहा जा रहा है कि शर्मा राजनीति में प्रवेश कर महाराष्ट्र में होने वाले आगामी विधानसभा चुनाव लड़ सकते हैं। राजनीतिक पर्यवेक्षकों का मानना है कि शर्मा भाजपा के टिकट पर चुनाव लड़ सकते हैं।

गौरतलब है कि ठाणे एंटी एक्सटॉर्शन सेल में रहते हुए शर्मा ने रंगदारी के मामले में अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम के भाई इकबाल कासकर को गिरफ्तार किया, जिस पर मकोका के तहत मामला चल रहा है। साथ ही उन्होंने बुकी सोनु जलाना और इंटरनेशनल डी-कंपनी के बेटिंग सिंडिकेट को तोड़ा जिसमें अभिनेता अरबाज खान सहित कई नामी कलाकारों के बेटिंग की जानकारी उभरकर सामने आई थी।

शर्मा ने जब मुंबई में कदम रखा, तब अंडरवर्ल्ड अपने चरम पर था। दाऊद इब्राहिम, छोटा राजन जैसे नामी अपराधी पुलिस की हिट लिस्ट में थे। शर्मा ने आते ही दो नामी बदमाशों का एनकाउंटर किया। इसके बाद मुंबई में उनका नाम गूंजने लगा। वर्ष 2008 में शर्मा पर अंडरवर्ल्ड से जुड़े होने का आरोप लगा।

उनका नाम ‘लखन भैया फर्जी एनकाउंटर’ में आया था, जिसके बाद उन्हें मुंबई पुलिस से निलंबित कर दिया गया। चार साल जेल में काटने के बाद वर्ष 2009 में कोर्ट ने उन्हें बरी कर दिया। इसके बाद उन्होंने वापस मुंबई पुलिस ज्‍वॉइन कर ली।

शर्मा के नाम 111 से भी अधिक एनकाउंटर दर्ज हैं। इसमें लश्कर-ए-तैयबा के तीन खूंखार आतंकवादी भी शामिल हैं। फिल्म ‘अब तक 56’ उनकी ही जीवनी पर बनी है जिसमें नाना पाटेकर ने मुख्य किरदार निभाया था। एक स्कूल टीचर के बेटे शर्मा की लाइफ पर ‘रेगे’ नाम की मराठी फिल्म भी बन चुकी है।