इंग्लैंड टीम की जर्सी इंडिया की तरह ‘ब्लू’

England's New ODI Cricket Jersey
England’s New ODI Cricket Jersey

लंदन । आईसीसी विश्वकप की मेज़बान इंग्लैंड ने बुधवार को टूर्नामेंट के लिये अपनी जर्सी का अनावरण ज़ोर शोर से किया, लेकिन सोशल मीडिया पर इसकी तस्वीर आते ही प्रशंसकों ने न सिर्फ इसे भारतीय टीम की जर्सी जैसा बताया बल्कि इसे लेकर कई हास्यास्पद टिप्पणियां भी कर डालीं।

दरअसल इंग्लैंड ने आईसीसी टूर्नामेंट के लिये अपनी जर्सी वर्ष 1992 के विश्वकप से प्रेरणा लेकर तैयार की है, यह आखिरी मौका था जब इंग्लिश टीम ने विश्वकप के फाइनल में जगह बनाई थी। यह दिलचस्प है कि क्रिकेट के जन्मदाता कहे जाने वाले इंग्लैंड ने इस खेल के इतिहास में कभी भी वनडे विश्वकप नहीं जीता है। हालांकि 30 मई से उसकी मेज़बानी में होने जा रहे आईसीसी टूर्नामेंट में वह खिताब की प्रबल दावेदार मानी जा रही है।

इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड ने ट्विटर पर अपने खिलाड़ियों की विश्वकप की नयी जर्सी में तस्वीरें पोस्ट कर लिखा,“ विश्वकप की जर्सी, आपको कैसी लगी।” ईसीबी के इस पोस्ट के बाद सोशल मीडिया पर प्रतिक्रियाओं की झड़ी लग गयी जिसमें अधिकतर प्रशंसकों ने इंग्लिश टीम की जर्सी को भारतीय टीम की जर्सी जैसा बताया। कई प्रशंसकों ने लिखा,“ भारत और इंग्लैंड के मैच विश्वकप में दुविधा पैदा करने वाले होंगे।”

इंग्लैंड की विश्वकप जर्सी सादे नीले रंग की है जिसमें गहरे नीले रंग का कॉलर है। यह टीम इंडिया की जर्सी के समान रंग वाली है जिसे उसकी जर्सी के रंग के कारण ‘टीम ब्लू्’ भी कहा जाता है। इस पुराने स्टाइल वाली रेट्रो जर्सी को उत्साहित करने वाली प्रतिक्रियाएं नहीं मिलीं और कुछ प्रशंसकों ने इसकी तुलना नीले रंग की बोरियों तक से कर दी।

हालांकि इस बीच पूर्व इंग्लिश तेज़ गेंदबाज़ स्टुअर्ट ब्रॉड ने इसे सुंदर बताते हुये किट की तारीफ की। लेकिन अधिकतर प्रशंसकों को यह जर्सी पसंद नहीं आयी है। ईसीबी ने एक दिन पूर्व ही अपनी 15 सदस्यीय विश्वकप टीम की घोषणा की थी जिसकी कप्तानी इयोन मोर्गन संभालेंगे।

इंग्लैंड को आस्ट्रेलिया तथा न्यूजीलैंड की संयुक्त मेजबानी में हुये 2015 विश्वकप के पहले ही राउंड में बाहर होना पड़ा था जिसके तुरंत बाद एलेस्टेयर कुक को बाहर कर इयोन मोर्गन को कप्तान बनाया गया था। हालांकि इस बार इंग्लैंड दुनिया की नंबर एक वनडे टीम के तौर पर विश्वकप में उतर रही है और अपनी जमीन पर अपने पहले खिताब की प्रबल दावेदार मानी जा रही है।