एग्जिट पोल : महाराष्ट्र और हरियाणा में फिर भाजपा

नई दिल्ली। महाराष्ट्र और हरियाणा के विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) नीत राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन दो तिहाई से भी अधिक बहुमत के साथ दोबारा सत्ता में लौटती नजर आ रही है।

दोनों राज्यों में सोमवार को मतदान की समाप्ति के बाद विभिन्न टेलीविजन चैनलों के चुनाव विश्लेषण एजेंसियों के एग्जिट पोल में महाराष्ट्र में भाजपा-शिवसेना गठबंधन की भारी जीत की संभावना व्यक्त की गई है वहीं हरियाणा में भाजपा अपने बूते जबरदस्त जीत हासिल करने जा रही है। दोनों राज्यों में कांग्रेस और उसके सहयोगी दलों को पिछड़ते दिखाया गया है।

पेस रिसर्च की ओर से महाराष्ट्र की 288 में से 100 विधानसभा क्षेत्रों के कुल 1,25,000 मतदाताओं का साक्षात्कार लिया गया जबकि हरियाणा की 90 में से 30 विधानसभा क्षेत्रों के कुल 37,500 मतदाताओं के मूड का आकलन किया गया।

आकलन के मुताबिक महाराष्ट्र में राजग को 195 से 215, कांग्रेस को 60 से 80 और अन्य दलों को 9 से 18 सीटें मिलने का अनुमान जताया गया है। इसी प्रकार हरियाणा में भाजपा को 65 से 75, कांग्रेस को 15 से 25 तथा अन्य पार्टियों को 10 से 15 सीटें मिलने की संभावना व्यक्त की गई है।

दूसरी तरफ महाराष्ट्र की 288 सीटों में सीएनएन न्यूज 18 ने राजग को सर्वाधिक 243 सीटें दी हैं। इस चैनल ने कांग्रेस के नेतृत्व वाले संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन को 41 और अन्य को 4 सीटें मिलने की संभावना व्यक्त की है। टाइम्स नाउ ने राजग को 230, संप्रग को 48 तथा अन्य को 10 सीटें दी हैं।

रिपब्लिक टीवी ने राजग को 223, संप्रग को 54 एवं अन्य को 11 सीटें दी हैं। एबीपी न्यूज ने राजग को 204 और संप्रग को 69 तथा अन्य को 15 सीट मिलने का अनुमान व्यक्त किया है। इंडिया टूडे ने राजग को 166 से 194 , संप्रग को 70 से 90 और अन्य को 22 से 34 सीटें दी हैं।

हरियाणा की 90 सीटों में से इंडिया टीवी ने भाजपा को 73, कांग्रेस को 10 और अन्य को 7 सीटें दी हैं। सीएनएन न्यूज 18 ने भाजपा को 75, कांग्रेस को 10 और अन्य को 5 सीट मिलने का अनुमान व्यक्त किया है। एबीपी न्यूज ने भाजपा को 72 , कांग्रेस को 8 और अन्य को 10 सीटें दी हैं। टाइम्स नाउ ने भाजपा को 71, कांग्रेस को 11 और अन्य को 8 सीटें दी हैं। रिपब्लिक टी वी ने भाजपा को 52 से 63 , कांग्रेस को 15 से 19 और अन्य 12 से 19 सीटें मिलने का अनुमान व्यक्त किया है।

महाराष्ट्र में भाजपा-शिवसेना की गठबंधन सरकार है जबकि हरियाणा में भाजपा अपने बूते सरकार चला रही है।