तालिबान को बढ़ावा देने वाली सामग्री पर प्रतिबंध जारी रखेंगे फेसबुक, टिकटॉक

कैलिफोर्निया। सोशल मीडिया साइट फेसबुक और टिकटॉक ने कहा है कि अफगानिस्तान पर आतंकवादी संगठन तालिबान के कब्जे के बाद वे संगठन को बढ़ावा देने वाली सामग्री पर प्रतिबंध नहीं हटाएंगे।

सीएनबीसी ने सोशल मीडिया दिग्गजों के बयान के हवाले से यह जानकारी दी। चैनल ने फेसबुक के हवाले से कहा कि तालिबान को अमरीकी कानून के तहत एक आतंकवादी संगठन घोषित किया गया है और हमने अपनी ‘खतरनाक संगठन नीतियों’ के तहत उन्हें अपनी सेवाओं से प्रतिबंधित कर दिया है।

फेसबुक के प्रतिनिधि ने बताया कि तालिबान को फेसबुक ने कई वर्षों के लिए प्रतिबंधित कर दिया है और संगठन की ओर से बनाये गये सभी अकाउंट को हटा दिया गया है। अफगानी नागरिकों की एक विशेष टीम फेसबुक के साथ काम कर रही है ताकि तालिबान का महिमामंडन करने वाले अकाउंट की पहचान की जा सके।

टिकटॉक ने भी कहा कि उसने तालिबान को एक आतंकवादी संगठन के रूप में नामित किया है और वह संगठन को बढ़ावा देने वाली सामग्री को हटाना जारी रखेगा। गौरतलब है कि गत रविवार को तालिबान ने अफगानिस्तान पर पूरी तरह कब्जा कर लिया, जिसके बाद अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी ने इस्तीफे की घोषणा की ओर देश छोड़ दिया।

गनी ने कहा कि उन्होंने हिंसा को रोकने के लिए यह निर्णय लिया क्योंकि आतंकवादी राजधानी काबुल पर हमला करने के लिए तैयार थे। तालिबान के कब्जे के बाद कई लोग आतंकवादियों से प्रतिशोध के डर से देश छोड़कर भागने की कोशिश कर रहे हैं।