अलवर में लॉक डाउन का पालन कर रहे हैं किसान

Farmers are following lockdown in Alwar
Farmers are following lockdown in Alwar

अलवर। राजस्थान में अलवर जिले में कोरोना वायरस को लेकर सरकार की बार बार चेतावनी के बावजूद जहां शहर में भीड़ बनाकर लोग सड़कों पर घूम रहे हैं और खरीददारी के नाम पर राशन, फल और सब्जी की दुकानों पर जमा हो रहे हैं, वहीं गांवों में किसान फसल कटाई का समय होने के बावजूद खेतों से दूर न जाकर घरों में रुककर नियमों का पालन कर रहे हैं।

कोरोना वायरस को लेकर पूरे देश में हाहाकार मच रहा है। हर शहर, हर गली और हर मोहल्ले में लॉकडाउन है, लेकिन शहरी क्षेत्रों में लोग लगातार लॉकडाउन का उल्लंघन कर रहे हैं। कई लोग सड़कों पर बेवजह घूमकर पुलिस का काम बढ़ा रहे हैं। इसके विपरीत ग्रामीण क्षेत्र में किसान एवं ग्रामीण नियमों का पूरी तरह से पालन कर रहे हैं और फसल कटाई का समय होने के बावजूद खेतों का रुख नहीं कर रहे हैं।

सूत्रों ने बताया कि हर तरफ फसल तैयार खड़ी है, लेकिन किसान लॉक डाउन का बखूबी पालन रहे हैं। सभी ग्रामीण महिलाएं छोटे बच्चे बड़े बूढ़े सब अपने-अपने घरों में दुबके बैठे हैं। गेहूं चना सरसों की फसल तैयार है, लेकिन उनको काटने ग्रामीण एवं महिलाएं नहीं जा रही हैं। ग्रामीणों का कहना है कि इस समय हमारी पूरी फसल पक कर तैयार खड़ी हुई है, लेकिन इस महामारी को देखते हुए हम अपने खेतों पर काम करने भी नहीं जा रहे हैं। हालांकि किसान भविष्य को लेकर चिंतित दिख रहे हैं, फिर उन्होंने स्पष्ट रूप से कहा कि वे 21 दिनों तक घरों पर ही रहेंगे।