एसपी साहब, मेरे बच्चों का असली पिता मेरा पति नहीं बल्कि देवर है

हिसार। फतेहाबाद की एक महिला ने हरियाणा के फतेहाबाद पुलिस अधीक्षक को शिकायत देकर कहा है कि उनके बच्चों का असली पिता पति न होकर देवर है इसलिए बच्चों और देवर का डीएनए टेस्ट करवाया जाए तथा बच्चों को देवर की संपत्ति से हिस्सा दिलवाया जाए।

पुलिस सूत्रों के अनुसार भीमा बस्ती निवासी इस महिला, जो चार बच्चों की मां है, की इस अनोखी शिकायत से पुलिस अधीक्षक विजय प्रताप सिंह भी हैरानी में पड़ गए और उन्होंने कानूनी राय ली जिसके बाद उन्होंने मामला महिला पुलिस थाने में भेजा है।

शिकायतकर्ता के अनुसार वह बेहद गरीब परिवार से थीं। उनका पति शराबी व जुआरी किस्म का था जिसके कारण उसका विवाह नहीं हो पा रहा था पर उनके पति के पास 60 एकड़ जमीन थी। बेटे की आदतों के कारण ससुराल वालों ने गरीब घर में (शिकायतकर्ता से) उसकी शादी करवा दी।

महिला का कहना है कि उनका पति शादी के बाद भी दिन रात शराब में डूबा रहता था। इसलिए वह मायके लौट आईं। पीछे से उनका देवर मायके आया और वह उनके मायके वालों को बहलाकर वापस उन्हें घर ले गया।

शिकायत के अनुसार देवर की शादी और बच्चे होने के बाद उसकी नियत में फर्क आ गया। उसने भाई की जायदाद अपने नाम करवा ली और शिकायतकर्ता महिला व उनके बच्चों के भूखे मरने की नौबत आ गई है। उन्होंने आरोप लगाया है कि देवर के परिवार वाले उन्हें अब घर से निकालना चाहते हैं।

महिला पुलिस ने आज थाने में देवर व उसके रिश्तेदारों को बुलाकर मामले में पूछताछ व छानबीन की। पुलिस के अनुसार मामले की जांच जारी है।

इस देश में पिता से ही होती है बेटी की शादी

शादी की एक ऐसी परंपरा के बारे में बता रहे है जिसे सुनकर आप हैरान हो जायेंगे| यहाँ बेटियों की शादी उनके पिता से ही करवाई जाती है| बेटी का पिता से सम्बन्ध सुनने में बड़ा अजीब लग रहा होगा लेकिन ऐसी ही इस जगह की हकीकत है| यहाँ लड़कियों को छोटी उम्र से ही उनके पिता के साथ शादी के सपने दिखाए जाते है| बचपन में ही लड़कियों को बता दिया जाता है कि उनकी शादी उनके पिता से होगी।