पुत्रवधु से दुष्कर्म में विफल होने पर ससुर ने की आत्महत्या

Father-in-law commits suicide due to boycott
Father-in-law commits suicide due to boycott

बीकानेर । राजस्थान में चुरू के कोतवाली थाना क्षेत्र में कलयुगी ससुर ने अपनी पुत्रवधु से दुष्कर्म करने में विफल होने पर उसे छुरे के वार से घायल करने के बाद खुद ने आत्महत्या कर ली।

चुरू महिला थाना पुलिस ने बताया कि घायल 30 वर्षीय पीड़िता ने दर्ज कराई रिपोर्ट में बताया कि वह अपने सास ससुर से अलग वार्ड छह में रहती है। कल सुबह उसका पति स्टूडियो का काम सीखने जयपुर चला गया। शाम को उसका ससुर रफीक (50) उसके घर आया और जिद करके रात में वहीं ठहर गया। रात करीब 11 बजे छत पर अपने दोनों बच्चों को सुलाया तो रफीक भी उनके पास आकर लेट गया।

उसकी नीयत भांपते हुए वह उसी से सटे कमरे में दरवाजा बंद करके सो गई। देर रात को रफीक खिड़की के रास्ते उसके कमरे में घुस आया और छुरा निकालकर उसे धमकी देते हुए दुष्कर्म का प्रयास करने लगा। कड़े प्रतिरोध के बाद रफीक ने छुरे से उस पर कई वार किये जिससे वह घायल हो गयी। उसकी चीखें सुनकर बच्चे जाग गये। इस पर रफीक वहां से चला गया।

पीडिता ने बताया कि बाद में दो तीन पड़ोसियों ने उसे चुरू के अस्पताल में भर्ती करा दिया। उधर कोतवाली पुलिस ने बताया कि घटना के बाद रफीक अपने घर चला गया और विषाक्त पदार्थ का सेवन कर लिया जिससे उसकी मौत हो गई।

पुलिस को रात करीब दो बजे इसकी इत्तिला मिली, जिस पर पुलिस ने मौके पर पहुंच कर शव पोस्टमार्टम के लिये चुरू के सरकारी अस्पताल भिजवा दिया। पुलिस मामले की जांच कर रही है।