एफसी गोवा और मुम्बई सिटी को पहली जीत की तलाश

FC Goa and Mumbai City looking for first win
FC Goa and Mumbai City looking for first win

फातोरदा। हीरो इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के सातवें सीजन में बुधवार को यहां के जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में जब मेजबान एफसी गोवा का सामना मुम्बई सिटी एफसी से होगा, तो एक चीज की गांरटी है कि दोनों टीमों के बीच काफी पास और रोमांचक संघर्ष देखने को मिलेगा।

मुम्बई सिटी के कोच सर्जियो लोबेरा को लंबे समय से अपने खिलाड़ियों को पिच के चारों ओर स्प्रे पास देने के लिए जाना जाता है। जब वह गोवा के कोच थे तो उन्हें प्रति मैच करीब औसतन 535 पास दिए थे। नॉर्थईस्ट युनाइटेड के खिलाफ मिली 0-1 की हार वाले मैच में अपने 10 खिलाड़ियों से खेलने के बावजूद मुम्बई सिटी ने 60 फीसदी बॉल पजेशन के साथ अपने प्रतिद्वंद्वी के 217 पास के मुकाबले 451 पास किए थे। किसी भी टीम ने अब तक लीग में इतने पास नहीं किए हैं।

एक टीम है, जोकि मुम्बई के करीब है और वह है जुआन फेरांडो की एफसी गोवा। बेंगलुरु एफसी के खिलाफ खेले गए 2-2 के ड्रॉ वाले मैच में गोवा ने 448 पास किए थे, जोकि अपने प्रतिद्वंद्वी से दोगुना पास है।

हारने के बावजूद, जिस तरह से टीम खेल रही है, उससे मुम्बई के कोच लोबेरा काफी खुश हैं और उनका मानना है कि जल्द ही गोल होने वाले हैं। लोबेरा ने कहा, हम उस टीम के साथ खेलने जा रहे हैं, जिसने अब तक सबसे ज्यादा पास किए हैं। आप केवल टारगेट पर लिए गए शॉट्स पर विचार नहीं कर सकते। फारुख (चौधरी) और सार्थक (गोलू) गोल करने के करीब थे। हमने कुछ चीजें बहुत अच्छे से की हैं। हम 10 खिलाड़ियों के साथ खेले और इसके बावजूद खेल में हावी थे। लेकिन फिर भी हमें सुधार करने की जरूरत है।

मुम्बई सिटी को इस मैच में अहमद जोहोउ की सेवाएं नहीं मिल पाएगी, जिन्हें पिछले मैच में रेड कार्ड दिखाया गया था। लोबेरा ने कहा, एक कोच के रूप में मेरे पास अच्छे खिलाड़ी है और मैं किसी एक खिलाड़ी के न होने से घबराता नहीं हूं।

एफसी गोवा ने पिछले मैच में बेंगलुरू के खिलाफ दो गोलों से पिछड़ने के बाद इगोर एंगुलो द्वारा तीन मिनट के अंदर किए गए दो गोलों के दम पर खुद को हार से बचा लिया था। कोच फेरांडो का मानना है कि इस बात के बारे में सोचना कि प्रतिद्वंद्वी क्या कर सकते हैं, समय की बर्बादी है। फेरांडो ने कहा, मेरा ध्यान अपनी टीम पर है और मैं विपक्षी टीम के बारे में नहीं सोच रहा हूं। सकारात्मक, प्रतिस्पर्धात्मक और तीन अंक लेना रहना सबसे महत्वपूर्ण बात है। चाहे मुम्बई सिटी हो या कोई और टीम, हमारी मानिसकता तीन अंक लेना है।