एफसी गोवा ने आईएसएल सीजन 5 में मुंबई को 5-0 से हराया

FC Goa beat Mumbai 5-0 in ISL Season 5
FC Goa beat Mumbai 5-0 in ISL Season 5

पणजी । आक्रामक रणनीति के साथ खेल रही एफसी गोवा टीम ने हीरो इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के पांचवें सीजन में अपना अजेय क्रम बरकरार रखते हुए जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में मुंबई सिटी एफसी को 5-0 से हरा दिया। यह इस सीजन में गोवा की लगातार दूसरी और घर में पहली जीत है।

दूसरी ओर, अपने घर में एफसी पुणे सिटी को 2-0 से हराकर नए सीजन में जीत का खाता खोलने वाली मुम्बई सिटी एफसी को सीजन की दूसरी हार झेलनी पड़ी। इस जीत से गोवा 10 टीमों की तालिका में पहले स्थान पर पहुंच गई है जबकि अपने चौथे मैच के बाद मुंबई सिटी एफसी सातवें स्थान पर खिसक गई है।

गोवा ने अंतिम मुकाबले में मौजूदा चैम्पियन चेन्नइयन एफसी को 3-1 से हराया था। अब तक तीन मैच खेल चुकी गोवा ने सीजन की शुरुआत नार्थईस्ट युनाइटेड एफसी के साथ 2-2 से ड्रॉ के साथ की थी। मुंबई के खिलाफ गोवा की टीम ने धमाकेदार शुरुआत की। चौथे ही मिनट में उसने तेज हमला बोला लेकिन सफल नहीं हो सका। हमला यहीं नहीं रुका। पांचवें मिनट में गोवा ने फिर हमला किया। इस बार फेरान कोरोमिनास गेंद लेकर बॉक्स में पहुंचे और गोल करने के काफी करीब थे, लेकिन शौवीक चक्रवर्ती ने उन्हें गिरा दिया।

कोरो सही समय पर सही जगह थे और निश्चित तौर पर गोल कर सकते थे। इसे देखते हुए रेफरी ने शौवीक के इस फाउल को गम्भीरता से लिया और उन्हें पीला कार्ड दिखाने के साथ-साथ मुम्बई के खिलाफ पेनाल्टी के लिए विशिल बजा दी। कोरो ने बिना कोई गलती किए सातवें मिनट में इस सीजन का अपना चौथा गोल करते हुए गोवा को 1-0 की बढ़त दिला दी।

मुम्बई ने इसके बाद हमले तेज किए। 15वें मिनट में उसे एक अच्छा मौका मिला। अर्नाल्ड इसोको ने पोस्ट के करीब पहुंचे लूसियान गोइयान को एक लूपी बॉल दी। गेंद उनकी पहुंच से बाहर थी लेकिन फिर भी उन्होंने उस पर नियंत्रण करते हुए हेडर लिया जो बाहर चला गया। 16वें मिनट में बौमोस ड्रिबल करते हुए मुम्बई के बॉक्स में पहुंचे लेकिन मिलन सिंह ने स्लाइड करते हुए उन्हें टैकल करने की कोशिश की। बौमोस गिर गए। लगा कि रेफरी फिर पेनाल्टी दे देगा लेकिन इस बार मुम्बई बच गई। इसके बाद दोनों टीमों ने कुछ मौके बनाए, हालांकि सफलता किसी को नहीं मिली।

मुम्बई की टीम गोवा के आक्रामक खेल के कारण रक्षात्मक होने पर मजबूर हुई। 42वें मिनट में बौमोस को अपनी टीम की बढ़त को दोगुना करने का अच्छा मौका मिला। इस बार भी वह चूक गए।

दूसरे हाफ में एक गोल की बढ़त के साथ उतरी गोवा ने अपनी बढ़त को 54वें मिनट में दोगुना कर लिया। उसके लिए दूसरा गोल जैकीचंद सिंह ने किया। इसमें सेरिटोन फर्नांडेज ने उनकी मदद की। सेरिटोन ने बॉक्स के दाहिने कोने से बॉक्स के अंदर पास दिया। जैकी ने गेंद अपने पास ली और नेट के निचले कोने में गेंद को डाल अपनी टीम का स्कोर 2-0 कर दिया।

गोवा यहीं नहीं रूकी। 61वें मिनट में इदू बेदिया ने पहला गोल करने वाले कोरोमिनास की मदद से गोवा से तीसरा गोल किया। कोरोमिनास ने बेदिया को बॉक्स के बाहर गेंद सौंपी। बेदिया ने वहीं से गेंद को नेट में डालने में कोई गलती नहीं की।

मुंबई तीन गोल के सामने ही बेबस नजर आ रही थी। मिग्युएल फर्नांडेज ने 84वें मिनट में एक और गोल करते हुए उसे और पस्त कर दिया। गोवा के इस चौथे गोल में मनवीर सिंह ने मिग्युएल की सहायता की। मिग्युएल यहीं रुके और इंजुरी टाइम में अहमद जाहो की मदद से एक और गोल करते हुए अपनी टीम को 5-0 से जीत दिला दी।