बिहार की जेल में महिला बंदी के साथ रेप शर्मनाक : कांग्रेस

पटना। बिहार में एक महिला बंदी के साथ पिछले दिनों हुए रेप की घटना को कांग्रेस एवं हिन्दुस्तानी आवाम मोर्चा ने राज्य की नीतीश सरकार की विफलता करार दिया और कहा कि वर्तमान सरकार से कामकाज अब संभल नहीं रहा है।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं विधान परिषद् के सदस्य प्रेमचंद मिश्रा ने कहा कि समाचार पत्रों से यह जानकारी मिली है कि इस वर्ष 14 नवंबर की रात को पुलिस सुरक्षा में मुजफ्फरपुर के श्रीकृष्ण मेडिकल कॉलेज अस्पताल में सीतामढ़ी जेल से इलाज कराने आई एक महिला बंदी के साथ दो लोगों ने दुष्कर्म किया। सरकारी अस्पताल में इस तरह की घटना होना सरकार के लिए शर्मनाक है।

मिश्रा ने कहा कि इस तरह की घटना होना राज्य में गिरती कानून व्यवस्था का द्योतक है। महिला बंदी के साथ तैनात सुरक्षाकर्मी उस समय कहां थे। उन्होंने कहा कि इस घटना से ऐसा प्रतीत होता है कि सरकार का अब प्रशासन पर से नियंत्रण समाप्त हो गया है।

वहीं, हम के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी ने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार अब सुशासन का ढोल पीटना बंद करें। उन्होंने इस घटना को शर्मनाक बताया और कहा कि बीमार बंदी के साथ यह कुकृत्य राज्य के लिए बदनुमा धब्बा है। राज्य में अब राष्ट्रपति शासन के अलावा कोई विकल्प नहीं रह गया है। इस मामले में जो भी दोषी हैं उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई होनी चाहिए।