सॉकरबोट माॅडल का दावा, जर्मनी जीतेगा फुटबाल विश्वकप 2018

FIFA World Cup 2018 : European soccer expert David Sumpter says Germany will win again

नई दिल्ली। यूरोप के जाने माने गणितज्ञ और यूरोपियन फुटबाल के विशेषज्ञ डेविड सम्पटर के सॉकरबाेट माॅडल का दावा है कि गत चैंपियन जर्मनी 14 जून से रूस में होने वाले फीफा फुटबाल विश्वकप में खिताब जीतेगा।

विश्वकप को शुरू होने में मात्र 17 दिन का समय रह गया है और भविष्यवाणियों को दौर गरमाने लगा है कि कौन सी टीम इस बार विश्व चैंपियन बनेगी। विश्वकप की शुरूआत 14 जून को रूस और सउदी अरब के बीच मुकाबले से शुरू हेागी।

गत चैंपियन जर्मनी पर विश्वकप जीतने के लिए 7-2, पांच बार के चैंपियन ब्राजील पर 4-1 तथा फ्रांस और स्पेन पर 6-1 का भाव लगाया गया है। यह भाव यूरोपियन फुटबाल विशेषज्ञ सम्पटर ने निकाला है।

सम्पटर ने सॉकरमैटिक्स नाम की एक किताब लिखी है जिसमें बताया गया है कि खेल के अंदर गणित किस तरह काम करता है। सम्पटर ने अनुभवी विश्लेषकों के साथ शक्तिशाली साॅकरबोट मॉडल तैयार किया है।

सॉकरबोट मॉडल सभी टीमों के प्रदर्शन की गणना कर आगामी मैचों के लिये भविष्यवाणी करता है। यह माना जाता है कि सॉकरबोट की भविष्यवाणी 1800 फीसदी तक सही है।

सम्पटर ने इस आधार पर 2018 के विश्वकप के लिए दावेदार टीमों पर भाव लगाए हैं। सम्पटर का मानना है कि अपना लगातार छठा विश्वकप खेल रहा इंग्लैंड आसानी से राउंड-16 में पहुंच जाएगा और इंग्लैंड पर 20-1 का भाव लगाया गया है।

सम्पटर के आकलन में आश्चर्यजनक रूप से पुर्तगाल को कोई जगह नहीं मिली है। हालांकि पुर्तगाल के पास क्रिस्टियानो रोनाल्डो जैसा चमत्कारिक स्ट्राइकर मौजूद है जिन्होंने पिछले पांच सत्रों में चार बार सर्वश्रेष्ठ फुटबालर का बैलन डी ओर अवार्ड जीता है।

पुर्तगाल ने हालांकि यूरो 2016 में फ्रांस को 1-0 से हराकर खिताब जीता था लेकिन सम्पटर उन्हें दावेदारों में शामिल नहीं करते हैं। सम्पटर ने इसका कारण देते हुये बताया कि पुर्तगाल ने बेशक यूरो 2016 जीता था लेकिन उसने निर्धारित समय में सिर्फ एक ही मैच जीता था।

सम्पटर का यह भी मानना है कि रोनाल्डो विश्वकप शुरू होने के समय 33 साल के हो जाएंगे और उनका सर्वश्रेष्ठ समय पीछे छूट चुका है जिसका मतलब है कि पुर्तगाल प्रारंभिक दौर में ही बाहर हो जाएगा।

सम्पटर ने अर्जेंटीना पर 7-1, बेल्जियम पर 10-1 और पुर्तगाल पर 20-1 का भाव लगाया। ईरान, ट्यूनीशिया, पनामा और सउदी अरब चार ऐसी टीमें हैं जिन पर 1000-1 का भाव लगा है।