एमबापे के कमाल से फ्रांस क्वार्टरफाइनल में, अर्जेंटीना बाहर

FIFA world cup 2018 : France reach Quarterfinals with 4-3 win over Argentina

कज़ान। युवा खिलाड़ी किलियन एमबापे के दूसरे हाफ में चार मिनट के अंतराल में दागे गए दो बेहतरीन गोलों की मदद से फ्रांस ने अर्जेंटीना और लियोनल मैसी को शनिवार राउंड 16 के हाई वोल्टेज मुकाबले में 4-3 से पराजित कर फीफा विश्व कप फुटबॉल टूर्नामेंट के क्वार्टरफाइनल में प्रवेश कर लिया।

पहला हाफ 1-1 से बराबर रहने के बाद दूसरा हाफ बेहद रोमांचक हुआ जिसमें 1998 के चैंपियन फ्रांस ने बाजी मारकर अर्जेंटीना से विश्व कप में मिली दो पराजयों का हिसाब चुका लिया।

मुकाबला बेहद रोमांचक रहा और आखिरी मिनट तक सांसे थमी हुई थी लेकिन 19 साल के एमबापे ने मैच में सारा अंतर पैदा कर दिया। हालांकि अर्जेंटीना ने इंजरी समय में तीसरा गोल किया लेकिन फ्रांस को क्वार्टरफाइनल में जाने से नहीं रोक सके।

एमबापे ने फ्रांस का तीसरा गोल 64 वें मिनट में और चार मिनट बाद अपना दूसरा तथा टीम का चौथा गोल कर फ्रांस की जीत सुनिश्चित कर दी। फ्रांस का क्वार्टरफाइनल में उरग्वे और पुर्तगाल के बीच मैच के विजेता से मुकाबला होगा।

एंटोयन ग्रीजमैन ने 13 वें मिनट में मिली पेनल्टी पर फ्रांस का पहला गोल किया जबकि बेंजामिन पवार्ड ने 57 वें मिनट में फ्रांस का दूसरा गोल किया। एमबापे ने 64वें और 68वें मिनट में दो गोल किए।

अर्जेंटीना के गोल एंजेल डी मरिया ने 41वें मिनट में, गेब्रियल मेर्काडो ने 48वें मिनट में और स्थानापन्न खिलाड़ी सर्जियो एग्वेरो ने इंजरी समय के तीसरे मिनट में किए।

अर्जेंटीना ने दूसरा हाफ शुरू होते ही बढ़त बनायी लेकिन फ्रांस ने जल्द ही बराबरी हासिल कर ली। एमबापे ने चार मिनट के अंतराल में दो गोल कर फ्रांस को 4-2 से आगे कर दिया।

अर्जेंटीना ने इंजरी समय में तीसरा गोल किया और आखिरी मिनट में उसे फ्री किक भी मिली लेकिन दो बार के चैंपियन अर्जेंटीना ने बराबरी हासिल करने का मौक़ा गंवा दिया।

अर्जेंटीना ने फ्रांस को 1930 में 1-0 से और 1978 में 2-1 से हराया था लेकिन इस बार फ्रांस ने सारा हिसाब किताब बराबर कर लिया। इस हार के साथ मैसी का विश्व कप जीतने का सपना टूट गया और वह आंसुओं के बीच विश्व कप से विदा हो गए। फ्रांस की टीम आखिरी सीटी बजते ही ख़ुशी से झूम उठी और एमबापे मैन ऑफ द मैच बन गए।