जर्मनी फिर बनेगा विश्व चैंपियन, लियोनल मैसी को गोल्डन बूट

जोहानसबर्ग। विश्व की नंबर एक फुटबाल टीम और गत चैंपियन जर्मनी रूस में होने वाले फीफा विश्वकप में अपने खिताब का सफलतापूर्वक बचाव करेगी और फिर से उसके सिर चैंपियन का ताज सजेगा, जबकि व्यक्तिगत प्रदर्शन के मामले में अर्जेंटीना के लियोनल मैसी शीर्ष स्कोरर रहेंगे।

आर्थिक विशेषज्ञों के समाचार एजेंसी रॉयटर द्वारा कराए गए सर्वेक्षण के अनुसार रूस में 14 जून से 15 जुलाई तक चलने वाले फीफा विश्वकप में यही परिणाम देखने को मिल सकता है। यदि जर्मनी खिताब बचाने में कामयाब रहता है तो वह पांच बार की विश्वकप चैंपियन ब्राजील के सर्वाधिक खिताब जीतने के रिकार्ड की बराबरी कर लेगा।

16 से 31 मई तक कराये गये रायटर के वैश्विक स्तर के सर्वेक्षण में जर्मनी की राष्ट्रीय फुटबाल टीम को 145 विशेषज्ञों में से 43 ने विजेता माना है। दूसरे नंबर पर ब्राजील को 37 वोट मिले। विशेषज्ञों ने यह भी माना कि जुलाई में फाइनल भी इन दोनों टीमों के बीच संभव है।

चार वर्ष पहले भी जर्मनी ने मेज़बान ब्राजील को सेमीफाइनल में 7-1 से पराजित करते हुये उसी के जमीन पर अर्जेंटीना को फाइनल में 1-0 से हराकर खिताब जीता था। जोहानसबर्ग स्थित ईएफकंसल्ट के मुख्य अर्थशास्त्री फ्रैंक ब्लैकमोर ने कहा कि जर्मनी की टीम के पास प्रतिभा और अनुशासन का अच्छा संयोजन है और किसी एक खिलाड़ी का ही दबदबा नहीं है। टीम का हर खिलाड़ी हाईप्रोफाइल है और वह विजेता के तौर पर बड़ी पसंद है।

साओ पाउलो के विशेषज्ञ लुईस राबर्टाे मोंटेरो ने कहा कि काफी लोग चाहते हैं कि ब्राजील जीते क्योंकि जर्मनी से हारने के बाद ब्राजील पर काफी दबाव है। हालांकि मोंटेरो ने माना कि ब्राजील काफी हद तक नेमार या एकाध खिलाड़ी पर ही निर्भर है इसलिये उसके जीतने की संभावना कम है। नेमार फिलहाल अपनी चोट से उबर रहे हैं और उनके विश्वकप के शुरू में उतरने को लेकर संदेह है।

बार्सिलोना के अर्जेंटीना स्ट्राइकर मैसी ने क्लब और देश के लिये अब तक 600 गोल किये हैं और विशेषज्ञों को उम्मीद है कि वह विश्वकप में भी ‘गोल्डन बूट’ के हकदार बनेंगे। आखिरी बार ब्राजील में कोलंबिया के जेम्स रोड्रिग्ज़ ने यह अवार्ड जीता था।

सट्टेबाज़ों के अनुसार जर्मनी और ब्राजील के विजेता बनने का 9/2 का भाव है। दूसरी ओर सर्वेक्षण में रूस के जीतने की संभावना न के बराबर जताई गई है। लेकिन उम्मीद है कि मेजबान देश कम से कम अंतिम-16 में जगह बना लेगा।

विश्वकप के 88 वर्षाें के इतिहास में टूर्नामेंट की मेजबानी करने वाली टीमों के जीतने की संभावना हमेशा कम रही है और केवल पांच ही मौके आये हैं जब विश्वकप का आयोजन करने वाली घरेलू टीम विजेता बनी है जिनमें 1930 में उरूग्वे, 1934 में इटली, 1966 में इंग्लैंड, 1978 में अर्जेंटीना और 1998 में फ्रांस शामिल हैं।

इस बीच यूरोप के जाने माने गणितज्ञ और यूरोपियन फुटबाॅल के विशेषज्ञ डेविड सम्पटर के सॉकरबोट मॉडल का भी दावा है कि गत चैंपियन जर्मनी विश्वकप में खिताब जीतेगा। जर्मनी पर विश्वकप जीतने के लिये 7-2, पांच बार के चैंपियन ब्राजील पर 4-1 तथा फ्रांस और स्पेन पर 6-1 का भाव लगाया गया है। यह भाव यूरोपियन फुटबाल विशेषज्ञ सम्पटर ने निकाला है।

सम्पटर ने सॉकरमैटिक्स नाम की एक किताब लिखी है जिसमें बताया गया है कि खेल के अंदर गणित किस तरह काम करता है। सम्पटर ने अनुभवी विश्लेषकों के साथ शक्तिशाली सॉकरबोट मॉडल तैयार किया है। सॉकरबोट मॉडल सभी टीमों के प्रदर्शन की गणना कर आगामी मैचों के लिए भविष्यवाणी करता है। यह माना जाता है कि सॉकरबोट की भविष्यवाणी 1800 फीसदी तक सही है। सम्पटर ने इस आधार पर 2018 के विश्वकप के लिये दावेदार टीमों पर भाव लगाए हैं।