सर्बिया घर में हारा, मोरक्काे ने स्लोवाकिया को 2-1 सेे हराया

FIFA World Cup 2018: Serbia stumble at home to Chile, Morocco impress

ज्यूरिख। सर्बिया को घरेलू मैदान पर चिली के हाथों 0-1 से चौंकाने वाली हार झेलनी पड़ी है जबकि फीफा विश्वकप के अन्य अभ्यास मैच में मोरक्को ने स्लोवाकिया को 2-1 से हराकर प्रभावित किया।

रूस में 14 जून से शुरू होने वाले फुटबाल विश्वकप के लिए क्वालीफाई कर चुकी इटली और हॉलैंड ने भी तुरिन में 1-1 से ड्रॉ खेला।

सर्बिया विश्वकप ग्रुप में ब्राजील, कोस्टा रिका और स्विटजरलैंड के साथ है। मैच में हालांकि उसका प्रदर्शन प्रभावित करने वाला नहीं रहा और चिली के लिए मैच के 89वें मिनट में गुइलेर्माे मारिपान ने मैच विजयी गोल करते हुए अपनी टीम को जीत दिला दी।

विश्वकप ग्रुप बी में शामिल मोरक्को और स्लोवाकिया के बीच हुये मैच में हालांकि मोरक्कन टीम ने बेहतरीन पास से प्रभावित किया और मैच जीतने के साथ अपने अपराजेय क्रम को 11 तक पहुंचा दिया।

मैच के 59वें मिनट में जांस ग्रेगस ने गोल से स्लोवाकिया को 1-0 की बढ़त दिलाई लेकिन मोरक्को ने 10 मिनट बाद ही अयुब काबी और यूनुस बेलहांडा के गोल की बदौलत मैच में वापसी कर जीत अपने नाम कर ली।

पोलैंड की तैयारियों को हालांकि उस समय झटका लग गया जब डिफेंडर कामिल ग्लिक को ट्रेनिंग के दौरान कंधे में चोट लग गई जिन्हें 23 सदस्यीय टीम में शामिल किया गया है।

कोच एडम नवाल्का ने कहा कि 30 वर्षीय कामिल एक किक लगाते हुए अजीब तरीके से अपने कंधे के बल गिर गए और उन्हें चोट लग गई। एडम ने कहा कि यदि कामिल समय पर ठीक नहीं हो पाते हैं तो उनकी जगह टीम में स्टटगार्ट के मार्सिन कामिनस्की को शामिल किया जाएगा।

मिस्र ने इस बीच चोटिल मोहम्मद सालाह पर दांव खेला और उन्हें अपने विश्वकप की अंतिम टीम में शामिल किया है जबकि अप्रेल से ही एक्शन से बाहर चल रहे मिडफील्डर मोहम्मद एलनेनी को भी टीम में जगह दी गई है।

सालाह अभी भी मांसपेशी की चोट से अभी भी उबरने का प्रयास कर रहे हैं, वह गत माह चैंपियंस लीग फाइनल में चोटिल हो गये थे जहां उनके क्लब लीवरपूल को रियाल मैड्रिड के हाथों हार झेलनी पड़ी थी।

हालांकि मिस्र को उम्मीद है कि अगले तीन सप्ताह के भीतर उनके स्टार फुटबालर ठीक होकर वापसी कर लेंगे। सालाह यदि इसी समयावधि में ठीक होते हैं तो वह 25 जून को सउदी अरब के खिलाफ फाइनल ग्रुप मैच में खेल सकेंगे।

मिस्र की टीम में अनुभवी गोलकीपर एसाम अल हैदरी को भी शामिल किया गया है जो उरूग्वे के खिलाफ मैच के दिन 45 वर्ष के हो जाएंगे। यदि विश्वकप के दौरान हैदरी को मैदान पर उतारा जाता है तो वह फीफा विश्वकप में खेलने वाले दुनिया के सबसे उम्रदराज़ फुटबालर बन जाएंगे।

दूसरी ओर इटली ने अपने कोच रॉबर्टाे मंचीनी के मार्गदर्शन में तीसरे मैच के पहले हाफ में हाथ आये सभी मौकों को गंवा दिया। तुरिन में खेले गये इस मैच में साइमन जाजा ने 67वें मिनट में घरेलू टीम को 1-0 से बढ़त दिला दी।

हालांकि इटली के डिफेंडर डोमेनिको क्रिसिटो को दो मिनट बाद ही दूसरी चेतावनी मिलने पर मैदान से बाहर भेज दिया गया और इसका फायदा उठाकर नाथन एक ने स्कोर 1-1 से बराबर कर दिया।