भारत ने लिया हार का बदला, अर्जेंटीना को 4-3 से हराया

भुवनेश्वर। भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने कलिंग स्टेडियम में रविवार को खेले गए एफआईएच प्रो हॉकी लीग मुकाबले में अर्जेंटीना को 4-3 से हरा कर अपनी कल की हार का बदला ले लिया। भारत को कल पेनल्टी शूट आउट में अर्जेंटीना से 1-3 से हार का सामना करना पड़ा था।

दोनों टीमों के बीच कांटे का मुकाबला रहा। दोनों तरफ से डिफेंस और आक्रामण बराबर रहने के चलते पहला क्वार्टर गोल रहित रहा, लेकिन भारत ने दूसरे क्वार्टर की शुरुआत शानदार गोल के साथ की। युवा मिडफील्डर हार्दिक सिंह ने 17वें मिनट में पेनल्टी कॉर्नर को गोल में तब्दील कर टीम को 1-0 की बढ़त दिलाई। इसके तुरंत बाद 20वें मिनट में युवा ड्रैग फ्लिकर जुगराज सिंह ने भी पेनल्टी कार्नर को गोल में बदला और बढ़त को 2-0 कर दिया। दूसरा क्वार्टर इसी स्कोर के साथ समाप्त हुआ।

अर्जेंटीना ने हालांकि तीसरे क्वार्टर से वापसी की। उसने न केवल डिफेंस बेहतर किया, बल्कि अटैक में वो धार दिखाई, जिसके लिए वह जाना जाता है। मिडफील्डर और फॉरवर्ड की भूमिका में खेलने वाले अनुभवी डे ला टोरे निकोलस ने 40वें मिनट में पेनल्टी कॉर्नर को गंवाया नहीं और शानदार गोल करके स्कोर को 2-1 करके टीम की वापसी कराई।

तीसरे क्वार्टर काे अच्छी लय में खत्म करने के बाद अर्जेंटना ने चौथे और आखिरी क्वार्टर की शुरुआत में एक गोल दाग कर स्कोर 2-2 से बराबर कर दिया। युवा फॉरवर्ड टॉमस डोमेने ने 51वें मिनट में पेनल्टी स्ट्राेक को गोल में बदला।

इस बीच हालांकि जुगराज ने 52वें मिनट में एक और पेनल्टी कॉर्नर को गोल में बदला और फिर से टीम को 3-2 की बढ़त दिलाई, लेकिन फॉरवर्ड फेरेरियो मार्टिन ने 56वें मिनट में शानदार फील्ड गोल करके फिर से स्कोर को 3-3 से बराबर कर दिया। अनुभवी फॉरवर्ड मंदीप सिंह ने हालांकि 60वें और आखिरी मिनट में बेहतरीन फील्ड गोल दाग कर मैच को पेनल्टी शूटआउट की ओर से जाने बचाया और टीम को शानदार जीत दिलाई।