India vs New Zealand : पहले अभ्यास मैच हनुमा विहारी जड़ा शतक ओपनर सस्ते में निपटे

First practice match Hanuma Vihari inlaid century opener dealt cheaply

हेमिल्टन। भारत के न्यूजीलैंड एकादश के खिलाफ टेस्ट सीरीज से पहले एकमात्र अभ्यास मैच के पहले दिन शुक्रवार को चेतेश्वर पुजारा (93) और हनुमा विहारी (101 रिटायर) को छोड़कर अन्य सभी बल्लेबाजों ने निराश किया और भारत की पहली पारी 78.5 ओवर में 263 रन सिमट गयी।

भारत के दोनों ओपनरों पृथ्वी शॉ (0) और मयंक अग्रवाल (1) ने निराश किया जबकि ओपनिंग के दावेदार शुभमन गिल खाता खोले बिना आउट हुए। अजिंक्या रहाणे 18 रन बनाकर पवेलियन लौटे और भारत ने अपने चार विकेट मात्र 38 रन पर गंवा दिए। इन नाजुक हालात में पुजारा और हनुमा ने पांचवें विकेट के लिए 195 रन की साझेदारी कर भारतीय पारी को संभाला। लेकिन जैसे ही यह साझेदारी टूटी, भारत की पारी को सिमटने में ज्यादा समय नहीं लगा।

मध्य क्रम के बल्लेबाज हनुमा ने बेहतरीन बल्लेबाजी करते हुए 182 गेंदों में 10 चौकों और तीन छक्कों के सहारे 101 रन बनाए और रिटायर हुए। पुजारा ने 211 गेंदों में 11 चौके और एक छक्का लगाकर 93 रन बनाए। भारतीय कप्तान विराट कोहली पहली पारी में बल्लेबाजी करने नहीं उतरे।

विकेटकीपर बल्लेबाज रिषभ पंत ने फिर निराश किया और सात रन बनाकर आउट हुए। नियमित विकेटकीपर रिद्धिमान साहा और ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन खाता खोले बिना आउट हुए। ऑलराउंडर रवींद्र जडेजा आखिरी नंबर पर बल्लेबाजी करने आए और आठ रन बनाकर आउट हुए। उमेश यादव नौ रन पर नाबाद रहे।

एकदिवसीय सीरीज 0-3 से गंवाने के बाद इस अभ्यास मैच में उम्मीद थी कि विश्व की नंबर एक टेस्ट टीम भारत के बल्लेबाज 21 फरवरी से शुरु होने वाले पहले टेस्ट से पूर्व अच्छा बल्लेबाजी अभ्यास कर लेंगे लेकिन पुजारा और हनुमा को छोड़कर सभी भारतीय बल्लेबाजों ने खासा निराश किया।

अनुभवी रोहित शर्मा के चोटिल होकर इस सीरीज से बाहर हो जाने के बाद टेस्ट टीम में शामिल किए गए पृथ्वी शॉ से उम्मीद थी कि वह इस मौके का फायदा उठाएंगे लेकिन वह पहले ही ओवर में खाता खोले बिना आउट हो गए। इस दौरे में मयंक की खराब फॉर्म अभ्यास मैच में भी बरकरार रही और वह 13 गेंदों में एक रन बनाकर पवेलियन लौट गए।

मयंक ने इससे पहले क्राइस्टचर्च में न्यूजीलैंड ए के खिलाफ गैर आधिकारिक टेस्ट में दोनों पारियों में शून्य बनाये थे और वनडे सीरीज में वह 32, 3 और 1 के मामूली स्कोर बना पाए थे। उनका यह खराब दौर अभ्यास मैच में भी जारी रहा। हालांकि घरेलू सीरीज के अपने दमदार प्रदर्शन की बदौलत वह पहले टेस्ट में ओपनिंग की जिम्मेदारी संभालेंगे।

ओपनिंग में मयंक के दूसरे जोड़ीदार बनने के दावेदार शुभमन गिल के लिए यह शानदार मौका था लेकिन वह तेज गेंदबाज स्कॉट कुगेजिन की पहली ही गेंद पर आउट हो गए। कुगेलजिन ने इससे पहले पृथ्वी और मयंक विकेट भी लिए थे। उन्होंने अपने पहले स्पैल में तीन विकेट लेकर भारतीय पारी को झकझोर दिया और न्यूजीलैंड की पिचों पर भारतीय ओपनरों की कमजोरी को भी जाहिर कर दिया।

गिल ने भारत ए के न्यूजीलैंड ए के खिलाफ पिछले दो गैर आधिकारिक टेस्टों में 83, नाबाद 204 और 136 जैसे शानदार स्कोर बनाये थे लेकिन अभ्यास मैच में शून्य पर आउट होकर उन्होंने अपना दावा कमजोर कर लिया। गिल को अभी अपने टेस्ट करियर की शुरुआत करनी है।

टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी भारतीय टीम की शुरुआत बेहद निराशाजनक रही और उसके तीन बल्लेबाज मात्र पांच रन के स्कोर पर पवेलियन चले गए। कुगेलजिन ने पहले पृथ्वी शॉ (0) को रचिन रवींद्र के हाथों कैच कराया और फिर मयंक को विकेट के पीछे डेन क्लीवर के हाथों आउट कर दिया। उन्होंने गिल (0) का भी शिकार किया।

शुरुआती झटकों के बाद भारतीय टीम को पुजारा ने रहाणे के साथ संभालने की कोशिश की लेकिन रहाणे ज्यादा देर क्रीज पर नहीं टिक सके और जेम्स नीशम की गेंद पर टॉम ब्रूस को कैच थमा बैठे। रहाणे ने 30 गेंदों पर 18 रन की पारी में एक चौका लगाया। रहाणे का विकेट 38 रन के स्कोर पर गिरा।

चार विकेट गिरने के बाद दवाब में आयी भारतीय पारी को पुजारा और विहारी ने आगे बढ़ाया और दोनों ने शानदार बल्लेबाजी की। पुजारा और विहारी के बीच पांचवें विकेट के लिए 195 रन की बड़ी साझेदारी हुई। यह साझेदारी और बड़ी होती कि उससे पहले पुजारा जेक गिब्सन का शिकार हो गए और अपना शतक पूरा करने से चूक गए। पुजारा का विकेट 233 के स्कोर पर गिरा। पुजारा ने अपनी शानदार पारी के लिए 211 गेंदें खेली।

पुजारा के आउट होने के बाद युवा बल्लेबाज रिषभ पंत उतरे लेकिन महज सात रन के स्कोर पर लेग स्पिनर ईश सोढी ने उन्हें पवेलियन भेज दिया। टी-20 और वनडे सीरीज में लगातार बेंच पर बैठने वाले पंत के पास खुद को साबित करने का यह सुनहरा मौका था लेकिन उन्होंने इसे दोनों हाथों से गंवा दिया। नियमित टेस्ट विकेटकीपर रिद्धिमान साहा खाता नहीं खोल पाए और गिब्सन का अगला शिकार बन गए।

पुजारा पांचवें बल्लेबाज के रुप में 233 के स्कोर पर आउट हुए जबकि हनुमा 245 के स्कोर पर रिटायर हुए। इसके बाद भारत की पारी को सिमटने में ज्यादा समय नहीं लगा और पूरी टीम 78.5 ओवर में 263 रन पर पवेलियन लौट गयी। न्यूजीलैंड एकादश की तरफ से कुगेलजिन ने 14 ओवर में 40 रन पर तीन विकेट, सोढी ने 14.5 ओवर में 72 रन पर तीन विकेट, गिब्सन ने 10 ओवर में 26 रन देकर दो विकेट तथा नीशम ने 13 ओवर में 29 रन देकर एक विकेट लिया।