गैंगस्टर राजू ठेहट हत्याकांड में 24 घंटे के पांचों आरोपी अरेस्ट

सीकर। राजस्थान पुलिस ने सीकर के गैंगस्टर राजू ठेहट हत्याकांड के चौबीस घंटे में हत्या में शामिल सभी पांचों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया हैं।

पुलिस के अतिरिक्त महानिदेशक (अपराध) डॉ रविप्रकाश मेहरडा ने आज पत्रकारों को बताया कि इन आरोपियों को अवैध विदेशी हथियारों समेत पकड़ लिया गया है और इस दौरान पुलिस से हुई मुठभेड़ में दो बदमाश घायल भी हुए।

डा मेहरड़ा ने बताया कि शनिवार की सुबह दस बजे के आसपास सीकर के पीपराली रोड स्थित राजू ठेहट के मकान के गेट के पास अज्ञात बदमाशों ने राजू ठेठ पर फायरिंग कर उसकी हत्या कर दी।

बदमाश भागते समय पास ही खड़े ताराचंद जाट (45) निवासी दोतिना थाना खाटू जिला नागौर और कैलाश चंद्र माली (40) निवासी वार्ड नंबर 49 थाना उद्योग नगर सीकर पर भी फायरिंग कर उनकी कार लेकर फरार हो गए। गंभीर घायल ताराचंद की अस्पताल में मौत हो गई।

उन्होंने बताया कि आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए विभिन्न पुलिस टीमों का गठन किया गया। अज्ञात बदमाशों को चिह्नित करने के प्रयास के दौरान सामने आया कि इन बदमाशों ने सीकर के करणी हॉस्टल में हत्या से पहले से प्रवेश ले रखा था। इनकी फोटो एवं अन्य रिकॉर्ड प्राप्त किए गए।

पुलिस महानिरीक्षक उमेश दत्ता के निर्देशन एवं पुलिस अधीक्षक झुंझुनूं मृदुल कच्छावा एवं सीकर पुलिस अधीक्षक कुंवर राष्ट्रदीप के नेतृत्व में दोनों जिलों की पुलिस एवं एटीएस-एसओजी जयपुर की संयुक्त टीमों ने सघन तलाशी अभियान चलाया, जगह-जगह नाकाबंदी की गई। इसी दौरान दोपहर को झुंझुनूं के बबाई में पुलिस नाकाबंदी तोड़ क्रेटा कार में सवार बदमाश फायरिंग करते हुए हरड़िया होते हुए बागोली नदी में उतर गए।

उन्होंने बताया कि पुलिस की पन्द्रह टीमों ने बाघोली नदी के निकट पहाड़ियों हरड़िया, काकरिया, सुरपुरा, बागोली, पापड़ा, नयाबास, हरीपुरा इत्यादि के गांव में सर्च अभियान चलाया। बदमाशों के फरार होकर शरण लेने के सम्भावित स्थानों पर भी तलाशी ली गई।

तलाशी के दौरान सराय (हरियाणा), डाबला, स्यलोदडा थाना पाटन के नजदीक पहाड़ियों के पास खेतों में छुपे हुए बदमाश मनीष उर्फ बच्चिया (25) निवासी जोरा वाली ढाणी थाना नीमकाथाना शहर एवं विक्रम गुर्जर (28) निवासी बामरडा जोहड़ा थाना खण्डेला को विदेशी हथियार एवं जिंदा कारतूस के साथ गिरफ्तार कर लिया गया।

उन्होंने बताया कि बदमाशों से प्रारंभिक पूछताछ के आधार पर डाबला नदी व आसपास की पहाड़ियों में कई टीमों द्वारा तलाश किया गया। सूचना के आधार पर गांव पापड़ा, गढ़ला कला, गुढा, पौंख, पचलंगी (झुंझुनू) में तलाशी के दौरान माला खेत की पहाड़ियों के अंदर सतीश मेघवाल (40) एवं जतिन कुमार (24) निवासी ढाढवा थाना बाढड़ा हरियाणा ने पुलिस निरीक्षक मनीष शर्मा एवं हिम्मत सिंह पर फायरिंग की, जो बाल बाल बच गए।

पुलिस की जवाबी फायरिंग में सतीश व जतिन के चोंटे आई। आखिर में इन दोनों को भी टीम ने दबोच लिया। इन बदमाशों के साथ एक बाल अपचारी को भी पकड़ा गया, जिसे निरुद्ध किया गया है। पुलिस महानिदेशक उमेश मिश्रा ने इस कामयाबी के लिए दत्ता, राष्ट्रदीप तथा कच्छावा समेत पूरी पुलिस टीम को बधाई दी है। उन्होंने बताया कि इस टीम को पुरस्कृत भी किया जाएगा।